अवैध खनन संयुक्त जांच अभियान में राज्य भर में 1100 कार्रवाई

जयपुर

10 करोड़़ जुर्माना राशि वसूल, 1026 वाहन-मशीनरी अब भी थानों में जब्त

जयपुर। प्रदेश में 15 मई से अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के खिलाफ चल रहे संयुक्त जांच अभियान में 1100 से अधिक कार्यवाही कर दस करोड़ से अधिक जुर्माना राशि राजकोष में वसूली जा चुकी हैं। जुर्माना वसूली राशि में जयपुर, झालावाड़, बूंदी का आंकड़ा एक-एक करोड़ को छूने में हैं।

एसीएस माइंस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने प्रगति समीक्षा के बाद बताया कि जिला कलक्टर द्वारा माइंस, रेवेन्यू, परिवहन, वन और पुलिस विभाग की टीम द्वारा अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। प्रदेश में अब तक 131 एफआईआर पुलिस में दर्ज करवाई जा चुकी हैं जिसमें से सर्वाधिक 56 एफआईआर भीलवाड़ा में दर्ज हुई है। बाड़मेर में 15, अलवर में 13, धौलपुर में 10 व शेष अन्य स्थानों पर दर्ज हुई है। जुुर्माना अदा नहीं करने वाले 1026 वाहन/मशीनरी आदि संबंधित थानों में जब्त है जिसमें सर्वाधिक 111 वाहन-मशीनरी जयपुर व भीलवाड़ा में 101, अजमेर में 67, जोधपुर में 55, नागौर में 52 व शेष अन्य स्थानों पर वाहन-मशीनरी जब्त है। जब्त शुदा खनिजों में प्रमुख रुप से बजरी के साथ ही मेसेनरी स्टोन, फेल्सपार, क्रेशर डस्ट, चाईनाक्ले, सिलिका सैंड, लाईम स्टोन, बेन्टोनाईट, क्रेशर ग्रिट आदि करीब 1588 टन खनिज मौके पर जब्त है।

जयपुर में 85 लाख 74 हजार 556 रुपये झालवाड़ में 85 लाख 73 हजार 920 रुपये बूंदी में 83 लाख 73 हजार 449 रुपये, पाली में 76 लाख 61 हजार 229 रुपये, अजमेर में 49 लाख 48 हजार 149 रुपये व शेष राशि अन्य स्थानों पर वसूल की गई है। जयपुर वृत के जयपुर, अलवर, टोंक, सीकर, झुन्झुनू और दौसा में करीब दो करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला जा चुका है। निदेशक माइंस केबी पण्डया ने बताया कि राज्य में संयुक्त जांच अभियान प्रगति पर है और इसके सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.