एसएमएस अस्पताल से चोरी हुआ बच्चा सकुशल बरामद

जयपुर

तीन बेटियों को राखी से पहले भाई की खुशी देने के लिए चुराया था बच्चा

जयपुर। राजधानी के एसएमएस अस्पताल से 4 महीने का बच्चा चोरी करने वाला आखिरकार पकड़ा गया। पुलिस ने शनिवार सुबह दबिश देकर उसे गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से मासूम को भी सकुशल मुक्त करवाया गया है। पुलिस के हुलिया जारी करने के बाद बच्चा चोर पकड़ में आया। एसएमएस अस्पताल थाना पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। जांच में सामने आया है कि आरोपी के परिवार में तीन लड़कियां थी और उन्हें एक लड़के की जरूरत थी। इसके चलते उसने अस्पताल से बच्चा चोरी किया।

एडि. कमिश्नर (फस्र्ट) अजय पाल लाम्बा ने शनिवार दोपहर को ही सबसे पहले बच्चे के बरामद होने की जानकारी सोश्यल मीडिया के जरिए दी। लांबा ने बताया कि बच्चा चोरी के मामले में हेमेंद्र उर्फ राजू (29) निवासी भरतपुर को गिरफ्तार किया गया है। वह मानसरोवर इलाके में किराए से रहता है और दिहाड़ी मजदूर है। पिछले चार दिन से वह चौराहे पर नहीं आ रहा था। बच्चा चोरी करने के बाद वह किसी से मिल भी नहीं रहा था।

अस्पताल से बच्चा चोरी के बाद वह सीसीटीवी में कैद हुआ। तलाश के लिए आमजन को बच्चा चोर का हुलिया जारी किया गया। हुलिए के आधार पर पुलिस को आरोपी राजू के बारे में पता चला। पुलिस ने शनिवार सुबह राजू के मोबाइल नंबर वीटी रोड चौराहे पर खड़े होने वाले उसके साथियों से लिया था। कॉन्टैक्ट करने पर राजू ने खुद को गांव में होने की जानकारी दी। पुलिस ने लोकेशन निकलवाई तो वह जयपुर की आई। राजू के घर पुलिस ने शनिवार शाम करीब 4 बजे दबिश दी। घर में दिव्यांश उसकी मां-पत्नी की गोद में खेलता मिला। राजू और बच्चे को पुलिस थाने ले आई। पूछताछ में उसने बताया कि उसके परिवार को एक लड़के की जरूरत थी, जिसके चलते उसने बच्चा चोरी किया।

उल्लेखनीय है कि राजू ने 3 अगस्त की शाम को एसएमएस के बांगड़ परिसर से बच्चा चोरी किया था। घटना के बाद बच्चे के दादा-दादी और माता-पिता ने एसएमएस अस्पताल परिसर स्थित पुलिस चौकी में बच्चा चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था। उसके बाद पूरे पुलिस महकमें के लिए यह प्रतिष्ठा का सवाल बन गया था। पुलिस ने इसके लिए महकमे की सभी टीमों को सतर्क किया। इसके लिए कई टीमें की मध्यप्रदेश में भेजी गई। राजस्थान में अधिकांश पुलिसकर्मियों, पुलिस अधिकारियों ने डीपी तक में संदिग्ध आरोपी युवक की फोटो लगा दी । सोशल मीडिया के माध्यम से भी लगातार आरोपी युवक की तलाश की जा रही थी। पुलिस ने बताया कि बच्चे दिव्यांश को सकुशल बरामद कर लिया गया है। बच्चा मिलने की खबर के बाद दादा-दादी और उसके माता-पिता की खुशी का ठिकाना नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.