जयपुर

एसीबी की उदयपुर में बड़ी कार्रवाई, अतिरिक्त कमिश्नर जीएसटी को 4 लाख की रिश्वत लेते पकड़ा, एक अन्य अधिकारी समेत 5 गिरफ्तार

जयपुर। एसीबी मुख्यालय के निर्देश पर जयपुर स्थित विशेष अनुसंधान इकाई की ओर से रविवार को उदयपुर और भीलवाड़ा में कार्रवाई करते हुए अतिरिक्त कमिश्नर जीएसटी (वाणिज्य कर विभाग, वृत्त भीलवाड़ा) मोहम्मद हुसैन अंसारी को उसके दलाल नितेश अग्रवाल से उदयपुर स्थित निवास पर 4 लाख रुपए की रिश्वत लेते-देते गिरफ्तार किया गया है। प्रकरण में संलिप्तता पाए जाने पर कर विभाग, भीलवाड़ा के एक अन्य अधिकारी और दलालों समेत कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि मुख्यालय को गोपनीय सूत्र से सूचना प्राप्त हुई थी कि वाणिज्य कर विभाग, वृत्त भीलवाड़ा में टैक्स चोरी का एक बड़ा रैकेट चलाया जा रहा है, जिसमें कर विभाग के अनेक अधिकारी कर्मचारी और प्राइवेट व्यक्ति मिलीभगत कर सरकार को करोड़ों रुपयों का चूना लगा रहे हैं।

इस पर विशेष अनुसंधान इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बजरंग सिंह शेखावत के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन कराया गया और पुलिस निरीक्षक रघुवीर शरण और विशेष टीमों द्वारा उदयपुर और भीलवाड़ा में कार्रवाई करते हुए मोहम्मद हुसैन अंसारी को उनके निवास पर नितेश अग्रवाल द्वारा 4 लाख रुपए की रिश्वत देते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया।

प्रकरण में संलिप्तता के चलते वाणिज्य कर अधिकारी वृत्त भीलवाड़ा दिनेश टेलर, भीलवाड़ा के ट्रांस्पोर्ट व्यवसायी राजू अग्रवाल और प्राइवेट व्यक्ति लक्ष्मण अग्रवाल निवासी भीलवाड़ा को भी पकड़ा गया है। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन के निर्देशन में आरोपियों से पूछताछ कर विभाग के अन्य संदिग्ध अधिकारियों के भीलवाड़ा और उदयपुर स्थित आवास व अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी है।

कोटा में एएसआई 50 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार
उधर एसीबी की कोटा इकाई ने भी रविवार को कोटा ग्रामीण इलाके में कार्रवाई करते हुए कनवास थाने के एएसआई रामरतन खटीक को परिवादी से 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। परिवादी के खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार नहीं करने और एफआर लगाने की एवज में रामरतन की ओर से 2 लाख 50 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही थी।

Related posts

महिला कांस्टेबल (lady constable) की तत्परता से बची महिला यात्री (female passenger) की जान (life)

admin

‘इन्वेस्टर्स मीट और एमओयू साइनिंग सेरेमनी’ में राजस्थान को मिले 70 हजार करोड़ रुपयों के इन्वेस्टमेंट कमिटमेंट्स

admin

लंबे शीतयुद्ध के बाद क्या अब होगा न्यायपालिका और कार्यपालिका के बीच सीधा विवाद

admin

Leave a Comment