गलती चौधरी ने की, सोनिया गांधी से माफी की मांग, आखिर क्यों

जयपुर

जयपुर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने फूंका अधीर रंजन चौधरी का पुतला

जयपुर। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपत्नी कहने के आरोपी कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी के खिलाफ देशभर में लोगों में खासा आक्रोश है। इस मामले में भाजपा ने प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस को घेर लिया है। गुरुवार को संसद से लेकर सड़क तक भाजपा ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से इस मामले में माफी की मांग की।

इस मामले में लोगों को यह समझ में नहीं आ रहा है कि जब गलतबयानी अधीर रंजन चौधरी ने की, तो फिर भाजपा सोनिया गांधी से माफी की मांग क्यों कर रही है। इसके पीछे प्रमुख कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कांग्रेस की बयानबाजी को माना जा रहा है। भाजपा सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस व अन्य विपक्षी दलों की ओर से पिछले कई वर्षों से प्रधानमंत्री मोदी को लेकर असम्मानजनक टिप्पणियां की जा रही थी। विपक्षी दल मोदी की छवि को खराब करने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं। हर छोटे-मोटे मामले में प्रधानमंत्री के नाम को घसीटा जाता है, ऐसे में अब राष्ट्रपति मामले में भाजपा ने सीधे सोनिया गांधी पर निशाना साधा है और इस निशाने से पूरी कांग्रेस छटपटा रही है। इस एक तीर से भाजपा कई निशाने साध रही है। भाजपा संसद से सड़क तक कह रही है कि कांग्रेस आदिवासी, महिला, गरीब विरोधी है।

जयपुर में भाजपा शहर, देहात युवा मोर्चा, महिला मोर्चा, एससी मोर्चा और एसटी मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने विरोध स्वरूप अधीर रंजन चौधरी का पुतला फूंका। इस दौरान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां, शहर अध्यक्ष राघव शर्मा, जितेंद्र शर्मा, एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र मीणा सहित कई नेता मौजूद रहे। कार्यकर्ताओं ने पार्टी मुख्यालय से सिविल लाइंस फाटक तक रैली निकाली। इस दौरान कार्यकर्ता कांग्रेस के खिालफ नारेबाजी भी करते रहे। सतीश पूनियां और जितेंद्र मीणा ने कहा कांग्रेस की मानसिकता ही दलित आदिवासी विरोधी रही है। कांग्रेस ने 75 साल में तो आज तक किसी आदिवासी महिला को राष्ट्रपति बनाया नहीं। भाजपा ने पहली बार आदिवासी महिला को ये कमान सौंपी है, तो ये लोग उसका अपमान करने से नहीं चूक रहे। जबसे मुर्मू को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया उसके बाद लगातार उन पर छींटाकशी कर रहे हंै। लेकिन अब तो अति हो गई। इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ये समूची महिला जाति और आदिवासी समाज का अपमान है। इसके लिए कांग्रेस पार्टी को माफी मांगनी होगी।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने बुधवार को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपत्नी कह दिया। इसके बाद गुरुवार को इस बयान को लेकर महिला भाजपा सांसदों ने सदन में हंगामा किया। हाथों में सोनिया माफ ी मांगें का पोस्टर लेकर उन्होंने नारेबाजी की। स्मृति ईरानी ने कहा कि सोनिया गांधी को माफ ी मांगनी होगी। लोकसभा और राज्यसभा में हुए हंगामे के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही स्थगित की गई।

संसद की कार्यवाही स्थगित होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के बीच नोकझोंक हो गई। सांसद रमा देवी ने जब अधीर रंजन के बयान के बारे में बात करने पहुंची तो सोनिया ने कहा- अधीर रंजन ने माफ ी मांग ली है। उन्होंने सवाल किया- इस मामले में मेरा नाम क्यों लिया गया? इस पर वहां मौजूद स्मृति ईरानी ने कहा- मैडम में आपकी मदद कर सकती हूं, तो सोनिया ने पलट कर कहा- डोंट टॉक टू मी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आरोप लगाया कि सोनिया ने भाजपा की महिला सांसदों को धमकाया है।

हंगामे के बीच अधीर रंजन ने गुरुवार को संसद के बाहर अपने बयान पर सफाई दी। उन्होंने माफ ी मांगने से साफ इनकार किया पर बोले- गलती से मैंने मुर्मू को राष्ट्रपत्नी कह दिया, अब आप मुझे फांसी पर चढ़ाना चाहते हैं तो चढ़ा दीजिए। सत्ताधारी दल तिल का ताड़ बनाने की कोशिश कर रहा है।

स्मृति ने सदन में कहा कि कांग्रेस गरीब और आदिवासियों की विरोधी है। अपनी गलती पर माफ ी मांगने की जगह कांग्रेस सीनाजोरी कर रही है। सोनिया गांधी को कांग्रेस की तरफ से माफ ी मांगनी चाहिए। कांग्रेस ने हर भारतीय नागरिक का अपमान किया है। इस पर मीडिया को जवाब देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि अधीर पहले ही अपनी गलती मान चुके हैं। अधीर रंजन से बुधवार को जब मीडिया ने पूछा था कि आप राष्ट्रपति भवन जा रहे थे, जाने नहीं दिया गया। तब उन्होंने कहा था कि आज भी जाने की कोशिश करेंगे।

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस नेता अधीर रंजन की टिप्पणी को सेक्सिस्ट यानी लैंगिक भेदभाव बताया। उन्होंने कांग्रेस से देश और राष्ट्रपति से माफ ी मांगने को कहा। वित्तमंत्री ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा कि ऐसा नहीं है कि यह शब्द गलती से अधीर रंजन के मुंह से निकल गया। उन्होंने जानबूझकर ऐसा बोला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.