जयपुर

पन्द्रहवीं राजस्थान विधानसभा का सप्तम सत्र बुधवार से

कोराना महामारी से बचाव के लिए आवश्यक सावधानियों की विधानसभा में पुख्ता व्यवस्था

दर्शक, विशिष्ट और अध्यक्ष दीर्घा के लिए नहीं बनेंगे प्रवेश पत्र

जयपुर। पन्द्रहवीं राजस्थान विधानसभा का सप्तम सत्र बुधवार 9 फरवरी को सुबह 11 बजे आहूत होगा। कोविड-19 से बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानियों को ध्यान में रखते हुए विधान सभा में पुख्ता व्यवस्थाएं की गई हैं। विधानसभा सत्र के दौरान दर्शक, विशिष्ट और अध्यक्ष दीर्घा के लिए प्रवेश पत्र नहीं बनाये जायेंगे।

राजस्थान विधानसभा के सचिव महावीर प्रसाद शर्मा ने बताया कि प्रवेश द्वारों पर हाथ धोने और सेनेटाइज किये जाने वाली मशीनें पर्याप्त संख्या में लगाई गई है। कोरोना से बचाव के लिए अपनाई जाने वाली सभी सावधानियों को दृष्टिगत रखते हुए विधानसभा सत्र के लिये आवश्यक व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई हैं। विधानसभा में संचालित एलोपैथिक, होम्योपैथिक, आयुर्वेद और यूनानी चिकित्सालयों में चिकित्सकों और औषधियों की व्यवस्था कोविड-19 के दृष्टिगत पर्याप्त की गई है।

मंगलवार को विधानसभा में अधिकारियों ने राज्यपाल के आगमन, सदन में प्रोसेसन में ले जाने और प्रस्थान की व्यवस्थाओं का रिहर्सल किया।

पार्किंग व्यवस्था – विधानसभा परिसर में सप्तम सत्र के लिए जारी वाहन प्रवेश पत्र लगे वाहनों का ही प्रवेश होगा। अधिकारियों के वाहनों का आवागमन विधानसभा के गेट संख्या 5 और 6 से होगा। पत्रकारों के दोपहिये वाहनों का प्रवेश भवन के उत्तरी द्वार गेट न. 1 से और चार पहिये वाहन का प्रवेश गेट न. 6 से होगा, जिनकी पार्किंग पूर्व की भांति पूर्वी एवं दक्षिणी कोने में बनाये गये पार्किंग स्थल पर होगा।

सुदृढ़ सुरक्षा व्यवस्था – विधानसभा की सुरक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए भवन के प्रवेश द्वारों पर एम्सस कन्ट्रोल के लिए फ्लेप बैरियर स्थापित किये गए है। विधानसभा भवन में प्रवेश करते व निकलते समय स्मार्ट कार्ड को फ्लेप बैरियर को खोलने पर ही आवागमन हो सकेगा।

Related posts

Gogamedi Murder Case: जयपुर में ही हुई थी गोगामेड़ी की हत्या की साज़िश… पुलिस को मिले कई अहम सुराग !

Clearnews

मस्जिद-मदरसे (Masjid – madarse) के वायरल पोस्टर (poster)को मुख्यमंत्री के ओएसडी (OSD) ने बताया झूठा, साइबर टीम (cyber police cell) जुटी जांच में

admin

मुख्यमंत्री गहलोत (CM Gehlot) ने पौष्टिक भोजन (nutritious food) के लिए बढ़ाया प्रति थाली 5 रुपए अनुदान (grant)

admin