पश्चिम बंगाल: करंट लगने से वर्कर की मौत, ममता बनर्जी ने 10 लाख मुआवजे का किया ऐलान

राजनीति

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि कोलकाता में बिजली की आपूर्ति निजी कंपनी सीईएससी करती है. सीईएससी से किसी को व्यक्तिगत समस्या हो सकती है, लेकिन मुझको कोई दिक्कत नहीं है.

  • मृतक के परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी बंगाल सरकार
  • ममता ने कहा- महाराष्ट्र के हॉटस्पॉट इलाकों से लौट रहे मजदूर

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में करंट लगने से एक वर्कर की मौत हो गई है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मृतक वर्कर के परिजनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है. सीएम ममता ने यह भी कहा कि वर्कर की मौत की जांच कराई जाएगी.

वहीं, पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफान से बाधित हुई बिजली आपूर्ति को बहाल किया जा रहा है. बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बिजली बहाल करने के काम में लगे वर्करों की तारीफ भी की. सीएम बनर्जी ने कहा, ‘मैं उन सभी वर्करों को सैलूट करती हूं, जो अपनी जिंदगी को जोखिम में डालकर कठिन परिश्रम से 90 फीसदी बिजली आपूर्ति बहाल की. अम्फान तूफान में करीब 4 लाख बिजली के खंभे गिर गए थे. ग्रामीण इलाकों में जलभराव की वजह से बिजली के खंभों को दुरुस्त करने में दिक्कत आ रही है.’

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

उन्होंने अपने प्रतिद्वंदियों को घेरते हुए कहा कि कोलकाता में बिजली की आपूर्ति निजी कंपनी सीईएससी करती है. सीईएससी से किसी को व्यक्तिगत समस्या हो सकती है, लेकिन मुझको कोई दिक्कत नहीं हैं. इसके अलावा अम्फान तूफान में सुंदरबन पूरी तरह से तबाह हो गया है. युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है. केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि पश्चिम बंगाल कोरोना वायरस के संकट, प्रवासी मजदूरों की समस्या, लॉकडाउन और आपदा से जूझ रहा है. इन सभी समस्याओं से निपटने के लिए राज्य पर दबाव नहीं डाला जाना चाहिए.

हॉटस्पॉट इलाकों से पश्चिम बंगाल लौट रहे प्रवासी मजदूर

बुधवार को ममता बनर्जी ने प्रवासी मजदूरों को लेकर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के हॉटस्पॉट इलाकों से काफी संख्या में प्रवासी मजदूर लौट रहे हैं. हमने कोरोना वायरस से बेहतर तरीके से निपटने के लिए कदम उठाए, लेकिन कोरोना संक्रमित प्रवासी मजदूरों के पहुंचने से सूबे में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

ममता बनर्जी ने बताया कि अब तक 5 लाख से ज्यादा प्रवासी मजदूर पश्चिम बंगाल लौट चुके हैं. हम लाखों मजदूरों को क्वारनटीन नहीं कर सकते हैं. यह संभव नहीं हैं. उन्होंने टास्क फोर्स बनाने की जरूरत भी बताई. उन्होंने बताया कि बुधवार रात को 11 ट्रेनें पश्चिम बंगाल पहुंच रही हैं, जबकि 17 ट्रेनें गुरुवार को पहुंचेंगी.

ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना

इस दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र पर करारा हमला भी बोला. उन्होंने कहा कि मुझको राजनीतिक रूप से परेशान करने के लिए बंगाल को नुकसान पहुंचाया जा रहा है. कुछ लोग पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस को फैलाने में जुटे हुए हैं. ममता बनर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह मामले को गंभीरता से लें, ताकि पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के मरीज न बढ़ें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *