पूरे देश के युवाओं में आक्रोश, प्रधानमंत्री उनकी भावनाओं को समय रहते समझे : गहलोत

कारोबार

अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस की जयपुर में महारैली

जयपुर। सेना भर्ती की अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस ने रविवार सुबह जयपुर में महारैली निकाली। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अमर जवान ज्योति से तिरंगा दिखाकर रैली को रवाना किया। विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

रैली से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार को घेरा और कहा कि पूरे देश के अंदर जिस प्रकार से युवा वर्ग में आक्रोश पैदा हुआ है, उनकी भावनाओं को प्रधानमंत्री जी को और सरकार को समय रहते समझ लेना चाहिए, क्योंकि बिना आर्ग्यूमेंट के जल्दबाजी में ये अग्निपथ योजना का फैसला किया गया है, जिसको देश की जनता ने भी अस्वीकार कर दिया है।

गहलोत ने कहा कि रिटायर्ड फौजी अफसरों ने सबने अस्वीकार कर दिया है। फौज में जो अनुभव रखते हैं उनके रिएक्शन देखे होंगे तो सब एक स्वर में कह रहे हैं कि ये योजना किसी भी रूप में देशहित में नहीं है, युवाओं के हित में नहीं है। सरकार को चाहिए कि जल्दी फैसला करे और इसको विड्रॉ कर ले, मेरा मानना है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि सेना में अग्निपथ योजना हमारे देश की सुरक्षा और युवाओं के खिलाफ है। पीएम मोदी ने पहले भी किसान पुत्रों के साथ धोखा किया। फिर व्यापारियों के साथ धोखा किया। नोटबंदी से अर्थव्यवस्था को तोड़ दिया।

डोटासरा ने मांग की, कि इस अग्निवीर योजना को वापस लेना चाहिए। कांग्रेस पार्टी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अशोक गहलोत सब लोग इन युवाओं के साथ खड़े है। जैसे किसानों से मांफी मांगी। वैसे इनको देश से माफी मांगनी पड़ेगी। जब तक समय निकल जाएगा।

रैली अमर जवान ज्योति से शुरू हुई और स्टेच्यू सर्किल, पांच बत्ती चौराहा, अजमेरी गेट, जौहरी बाजार, बड़ी चौपड़ व छोटी चौपड़ होते हुए प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर समाप्त हुई। तिरंगा वाहन रैली रैली का नेतृत्व जयपुर शहर के अध्यक्ष और खाद्य आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह खचारियावास, शिक्षा मंत्री डॉ. बी डी कल्ला, जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी, महिला बाल विकास मंत्री ममता भूपेश, सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना, आयुर्वेद राज्य मंत्री सुभाष गर्ग, राजस्थान जिला परिषद के अध्यक्ष और विधायक कृष्णा पूनिया,विधायक जगदीश जांगिड़, गोपाल मीणा, अमीन कागज़ी, रफीक खान सहित कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.