पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा और राजीव गांधी की मूर्ति का अनावरण, मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा बलिदान देने वालों का हो सम्मान

जयपुर

149 करोड़ रूपए के विकास कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी के कार्यकाल में राष्ट्रहित से जुड़े अनेक महत्वपूर्ण कार्य किए गए। स्व. इंदिरा जी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण करने का निर्णय लिया। उनके कार्यकाल में सेना ने अद्भुत शौर्य का प्रदर्शन कर पाकिस्तान को पराजित किया और बांग्लादेश का निर्माण हुआ। 1971 के युद्ध में 90 हजार पाकिस्तानी सैनिकों को आत्मसमर्पण करवाने वाली भारतीय सैन्य शक्ति पर हम सबको गर्व है।

गहलोत ने मंगलवार को चित्तौड़गढ़ में इंदिरा गांधी स्टेडियम एवं इंदिरा गांधी प्रियदर्शिनी ऑडिटोरियम में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी एवं राजीव गांधी उद्यान में स्व. राजीव गांधी की प्रतिमाओं का अनावरण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 149 करोड़ रूपए के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। इस दौरान उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रतिमा अनावरण के बाद यहां आने वाले युवाओं को इन महान नेताओं के जीवन आदर्शों से प्रेरणा लेने का अवसर मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद आई सरकारों द्वारा भारत के लोकतंत्र को सशक्त करने का कार्य किया गया। इसी का परिणाम है कि देश में संविधान लागू होने के साथ ही महिलाओं को मतदान करने का अधिकार मिला, जबकि अन्य लोकतंत्रों में इसमें काफी समय लगा। भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री, इन्दिरा गांधी एक महान नेता के रूप में देश के सामने आई। उन्होंने अपने प्राणों का उत्सर्ग कर देश की अखण्डता की रक्षा की। देश के लिए बलिदान देने वाले नेताओं का सभी के द्वारा सम्मान होना चाहिए।

जनकेंद्रित योजनाओं से आमजन को मिल रही राहत
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सकारात्मक सोच के साथ हर वर्ग की प्रगति के लिए कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से आमजन को महंगे इलाज की चिंता से मुक्ति मिली है। इस योजना के तहत प्रदेशवासियों के लिए 10 लाख तक का इलाज निःशुल्क कर दिया गया है। लीवर ट्रांसप्लांट, किडनी ट्रांसप्लांट, कोक्लियर इम्प्लांट आदि जटिल उपचारों में 10 लाख की सीमा समाप्त कर दी गई है। सभी प्रकार की दवाईयां और जांचें निःशुल्क कर दी गई है। इसके अलावा 5 लाख तक का दुर्घटना बीमा आमजन को दिया जा रहा है। इंदिरा रसोई में मात्र 8 रूपए में पौष्टिक भोजन परोसा जा रहा है। राज्य सरकार प्रति थाली 17 रूपए का अनुदान दे रही है। राज्य सरकार के मंत्री स्वयं जाकर समय-समय पर इंदिरा रसोईयों का निरीक्षण कर रहे हैं, ताकि भोजन की गुणवत्ता बनी रहे।

युवाओं को मिल रहा रोजगार
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरे देश में महंगाई और बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्याएं बनकर उभरी हैं। परन्तु राजस्थान में राज्य सरकार युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। वर्तमान कार्यकाल में अब तक 1 लाख 25 हजार से अधिक सरकारी नौकरियां दी जा चुकी हैं। लगभग इतने ही सरकारी पदों पर भर्ती प्रक्रियाधीन है तथा 1 लाख सरकारी नौकरियों के लिए भर्ती की घोषणा की जा चुकी है। निजी क्षेत्र में भी रोजगार सृजित करने के लिए सरकार लगातार कार्य कर रही है। इसी क्रम में आयोजित इन्वेस्ट राजस्थान समिट में लगभग 11 लाख करोड़ रूपए के एमओयू साइन हुए हैं। इनकी क्रियान्विति से वृहद् स्तर पर राज्य में रोजगार सृजित होंगे।

महिला शिक्षा में राज्य बढ़ रहा आगे
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के निर्णयोें से महिला शिक्षा के क्षेत्र में राज्य लगातार आगे बढ़ रहा है। पिछले चार सालों में राज्य में 211 महाविद्यालय खुले हैं जिनमें 91 बालिका महाविद्यालय हैं।

ओपीएस लागू करने के निर्णय की चर्चा पूरे देश में
इंदिरा गांधी प्रियदर्शिनी ऑडिटोरियम में विभिन्न कर्मचारी एवं पेंशनर संगठनों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के ओपीएस लागू करने के फैसले की आज पूरे देश में सराहना हो रही है। मानवीय दृष्टिकोण से लिए गए इस निर्णय से कर्मचारियों में अपने भविष्य के प्रति सुरक्षा की भावना आई है। सरकार ने ओपीएस लागू करने की सिर्फ घोषणा ही नहीं की बल्कि इसे धरातल पर लागू भी कर दिया है और कर्मचारियों को इसका लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को पूरे देश में ओपीएस लागू करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *