जयपुर

राजस्थान एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल का गठन, राजीव अरोड़ा को बनाया पहला चेयरमैन

जयपुर। प्रदेश के उद्योगों के निर्यात संबंधी विषयों की मॉनिटरिंग व उनसे संबंधित परेशानियों को दूर करने के लिए राजस्थान एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल का गठन किया गया। राजसिको चेयरमैन राजीव अरोड़ा को काउंसिल का पहला निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया।

अरोड़ा ने काउंसिल की पहली बैठक में सभी डायरेक्टर्स की उपस्थिति में कहा कि काउंसिल का मूल उद्देश्य प्रदेश में निर्यात को बढ़ाना है। राज्य सरकार की सहज औद्योगिक नीतियों के चलते पिछले 4 वर्षों के निर्यात में लगभग 37 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है व निर्यात में क्वांटम जंप आया है। उन्होंने कहा कि काउंसिल में अधिक से अधिक सदस्यों को जोडऩा प्रथम लक्ष्य है, ताकि छोटे से छोटे उत्पादक से लेकर बड़े से बड़े निर्यातक को इसका लाभ मिल सके।

अरोड़ा ने बताया कि काउंसिल के जरिए निर्यातकों की हर परेशानी को दूर किया जाएगा। सभी प्रकार के मामलों को काउंसिल अपने स्तर पर हैंडल करेगी और जो भी प्रभावित कंपनी होगी उनसे बात कर मामलों का निस्तारण करेगी। काउंसिल की मंशा राज्य के सभी उद्योगों के उत्पाद का एक्सपोर्ट के लिए प्रमोशन करना है, ताकि कोई भी क्षेत्र अधूरा नहीं रह जाए।

राजस्थान एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल में राजीव अरोड़ा को निर्विरोध चेयरमैन निर्वाचित किया गया। वहीं महावीर प्रसाद शर्मा को वाइस चेयरमैन, अनिल कुमार बख्शी, संजीव अग्रवाल, अनिल अग्रवाल, रवि पोद्दार और एसएन मोदानी को निदेशक बनाया गया। काउंसिल में 21 संस्थापक सदस्य, 7 निदेशक, एक वाइस चेयरमैन व एक चेयरमैन चुने गए हैं।

उद्योग आयुक्त महेंद्र कुमार पारख ने कहा कि राज्य में औद्योगिक एवं निर्यात विकास के लिए काउंसिल का गठन किया गया है। काउंसिल में हैंडीक्राफ्ट, जेम्स एंड ज्वेलरी, टेक्सटाइल, एग्रो प्रोडक्ट और इंजीनियरिंग के उत्पादों को शुरुआती दौर में बढ़ावा दिया जाएगा।

Related posts

‘ जब माला टंग जाएगी, तब टिकट मिलेगा क्या..!’ जयपुर से दिल्ली पहुंचे कांग्रेसियों का हंगामा

Clearnews

राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि देकर जुटाया जन समर्थन, 571 आवंटी पत्रकारों का गांधीवादी प्रदर्शन

admin

साबरमती आश्रम (Sabarmati Ashram) तोड़ने को गहलोत (Gehlot) ने बताया राष्ट्रपिता (Father Of Nation) का अपमान, पीएम (PM) से दखल देने की मांग

admin