राजस्थान के 37 आवासीय विद्यालयों को मिला ईट-राईट-स्कूल प्रमाण पत्र

जयपुर

उच्च गुणवत्तायुक्त, हाइजेनिक और पौष्टिक खाने के लिए मिला दर्जा

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा के निर्देशन में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि नियंत्रण आयुक्तालय रोज नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। इसी कड़ी में फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने राजस्थान के 37 आवासीय स्कूलों को ईट-राईट-स्कूल के तौर पर मान्यता प्रदान करते हुए सर्टिफिकेट जारी किये हैं। देश में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में एक साथ राजस्थान के 37 राजकीय आवासीय विद्यालयों को यह प्रमाण पत्र मिलना प्रदेश के गौरव की बात है। इन विद्यालयों में उच्च गुणवत्तायुक्त, हाइजेनिक एवं पौष्टिक खाने के सभी मानक पूरे करने के आधार पर यह प्रमाण पत्र प्राप्त हुए हैं।

इस प्रकार मिली सफलता
खाद्य सुरक्षा आयुक्तालय के अधिकारियों ने सर्वप्रथम शिक्षा विभाग के सहयोग से विद्यालयों को चिन्ह्ति किया। इसके बाद स्कूलों के शैक्षणिक स्टाफ, खाना पकाने वाले स्टाफ एवं विद्यार्थियों की कैपेसिटी बिल्डिंग के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये गये। इन सभी को फूड सैफ्टी मानकों की जानकारी दी गयी। हरी फल सब्जियां से लेकर पके हुए खाने तक को किस प्रकार हाइजेनिक तरीके से परोसा जाता है, खाया जाता है और किस प्रकार संधारित किया जाता है, यह सभी जानकारियां प्रशिक्षण के दौरान प्रदान की गई। बच्चों एवं स्कूली स्टाफ में जागरूकता के लिए फूड सेफ्टी संबंधित टेस्ट आयोजित कराए गये, बच्चों के बीच खाद्य सुरक्षा विषय पर पेन्टिंग कम्पीटिशन तथा शपथ कार्यक्रम भी आयोजित कराए गये।

इनको मिला दर्जा
कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय, नाचना, मूंगरा बाडमेर, नीठार भरतपुर, भीनमाल जालौर, कुचामन नागौर, नीडच राजसमंद, नंदीशमा उदयपुर, बौराज जयपुर, खैतरली पाली, टिब्बी हनुमानगढ़, दौसा, बौंली सवाईमाधोपुर, टोडारायसिंह टोंक, घडसाना गंगानगर, पोगल बीकानेर, जावल सिरोही, डूंगरपुर, राजगढ़ चूरू, मांदड सिरोही, हसंई धौलपुर, अजमेर, शाहबाद बारां, चाकसू जयपुर, चौमाला झालावाड़, महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय खैरोदा उदयपुर, चारभुजा राजसमंद, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बासकृपाल नगर अलवर, राजपुरबड़ा अलवर, बरनाला सवाई माधोपुर, नाहरगढ चित्तोड़गढ, अनुपपुरा जालसू जयपुर, राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय जैतारण पाली, ब्राह्म्णों की सरीरी आसींद भीलवाडा, जायल नागौर, नरोलीडांग करौली, मौलासर नागौर तथा खोडवाड़ा ईटावा कोटा को ईट-राईट विद्यालय का दर्जा प्राप्त हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.