जयपुरताज़ा समाचार

राजस्थान में प्रशासन शहरों के संग अभियान में अब तक 3,11,378 पट्टे जारी

पट्टे व अन्य कार्यो से 1,002 करोड़ 33 लाख रुपए का राजस्व अर्जित

जयपुर। प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान अब तक 3,11,378 पट्टे जारी किये जा चुके है। पट्टे जारी करने एवं अन्य कार्यो से 1,002 करोड़ 33 लाख रुपए का राजस्व नगरीय निकायों, विकास प्राधिकरणों एवं नगर विकास न्यास ने प्राप्त किया है। 

नगरीय विकास, स्वायत्त शासन एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने बताया कि अबतक नगर निगम, परिषद, पालिकाओं द्वारा अभियान के प्रथम चरण में 1,84,479 पट्टे द्वितीय चरण में 26,530 पट्टे, कुल 2,11,009 पट्टे दिये जा चुके है। इसी प्रकार प्राधिकरण व नगर विकास न्यास द्वारा प्रथम चरण में 87,284 द्वितीय चरण में 13,085, कुल 1,00,369 पट्टे दिये गये है। इस प्रकार प्रथम चरण में 2,71,963 पट्टे एवं द्वितीय चरण में 39,615 कुल 3,11,378 पट्टे दिये गये है। प्रथम चरण में पट्टे व अन्य कार्यो से 889 करोड़ रुपए तथा द्वितीय चरण में 112 करोड़ 36 लाख रुपए, कुल 1,002 करोड़ 33 लाख का राजस्व नगरीय निकायों, विकास प्राधिकरणों एवं नगर विकास न्यास को प्राप्त हुआ है। 

उन्होनें बताया कि अभियान के दौरान नगरीय निकायों को पट्टे, भवन निर्माण, नाम हस्तान्तरण, भूखण्डों का उपविभाजन, खांचा भूमि आवंटन एवं लीज से संबंधित प्रकरणों के साथ ही इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, जन-मृत्यु पंजीकरण, सीवर कनेक्शन व अन्य विभागों से संबंधित प्रकरणों के कुल आवेदन 14,32,118 प्राप्त हुए। जिनमें से 13,49,344 प्रकरणों का निस्तारण (स्वीकृत 13,15,333, अस्वीकृत 34,011) किया गया, जो कि प्राप्त प्रकरणों का 94.22 प्रतिशत है। 

विकास प्राधिकरणों एवं नगर विकास न्यासों ने अभियान के दौरान नगरीय निकायों को पट्टे, भवन निर्माण स्वीकृति, नाम हस्तान्तरण, भूखण्डों का उपविभाजन/पुनर्गठन, खांचा भूमि आवंटन व लीज से संबंधित प्रकरणों के कुल आवेदन 2,31,375 प्राप्त हुए। जिनमें से 2,27,765 प्रकरणों का निस्तारण (स्वीकृत 2,23,971, अस्वीकृत 3,794 एवं शेष 3,610) किया गया, जो कि प्राप्त प्रकरणों का 98.44 प्रतिशत है।

अभियान में नगर निगम/परिषद/पालिकाओं एवं प्राधिकरणों, नगर विकास न्यासों द्वारा अब तक भवन निर्माण के 59,159, नाम हस्तांतरण के 62,241, भूखण्ड उपविभाजन के 7,774, खांचा भूमि आवंटन के 799, लीज से संबंधित 58,690 प्रकरणों के निस्तारण के साथ ही इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के 2,46,959, सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 13,929, जन्म-मृत्यु पंजीकरण के 4,14,985, सीवर कनेक्शन के 16,397 एवं अन्य विभागों से संबंधित 3,46,993 प्रकरणों को स्वीकृति प्रदान की गई है।

अभियान के दौरान प्रथम एवं द्वितीय चरण में विभिन्न कार्यो के 16,63,493 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 15,77,109 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। जो की प्राप्त प्रकरणों का 94.81 प्रतिशत है। 

Related posts

हैरिटेज निगम 21.27 करोड़ रुपए खर्च कर कराएगापरकोटे के संरक्षण के काम का शिलान्यास, बड़ा सवाल-कितने साल टिकेगा संरक्षण

admin

विधानसभा उप चुनाव 2021 : संवेदनशील मतदान केंद्रों पर होगी वेबकास्टिंग, बलवा, बूथ कैप्चरिंग और अनाधिकृत प्रवेश पर रहेगी कड़ी नजर

admin

हरियाली की दुश्मन बनी राजस्थान सरकार, ग्रीन वैली की जगह बना रहे जयपुर नगर निगम हैरिटेज का गैराज

admin