जयपुर

हिंगोनिया गौशाला में देश का पहला लम्पी केयर सेंटर शुरू

पशु प्रबन्धन उपायुक्त सहित चार सदस्यी कमेटी का गठन व लम्पी स्कीन डीजीज हेल्प-लाईन नम्बर जारी किया

जयपुर। प्रदेश में गायों में लम्पी स्कीन डीजीज के बढ़ते प्रकोप के चलते नगर निगम ग्रेटर जयपुर की ओर से संचालित प्रदेश की सबसे बडी हिंगोनिया गौशाला देश का पहला लम्पी केयर सेंटर शुरू किया गया। हिंगोनिया गौशाला में लगभग 13500 गौ-वंश है। शुक्रवार को पशु नियंत्रण एवं संरक्षण समिति के चेयरमैन अरूण वर्मा ने हिंगोनिया गौशाला का दौरा किया।

साथ ही लम्पी बीमारी के रोकथाम बचाव व उपचार के लिए नगर निगम ग्रेटर जयपुर की पशु प्रबन्धन शाखा के उपायुक्त हेमाराम चौधरी की अध्यक्षता में चार सदस्य हाई पावर कमेटी का गठन किया गया। जिसमें पशुपालन विभाग के उप-निदेशक राधेश्याम मीणा, ग्रेटर नगर निगम के पशु चिकित्सा अधिकारी राजेन्द्र मीणा व हिंगोनिया गौशाला संभाल रहे कृष्ण बलराम सेवा ट्रस्ट के प्रबन्धक प्रेम आनन्द निताईदास को शामिल किया गया है। कमेटी को निदेशित किया गया है कि डेली डाटा रिपोर्ट के माध्यम से प्रतिदिन संक्रमित गांयो व रिकवर हो चुकी गायों की मॉनिटरिंग की जाए।

महापौर सौम्या गुर्जर ने बताया कि जयपुर के हिंगोनिया गौशाला में प्रदेश का पहला लम्पी केयर सेन्टर की भी शुरूआत की गई है। इस सेन्टर पर संक्रमित गायों का आईसोलेशन व उपचार किया जायेगा। साथ ही ग्रेटर निगम क्षेत्र के पशुपालकों के लिए हेल्प-लाईन नम्बर भी जारी किया गया है। यदि कोई आश्रयहीन गाय लम्पी बीमारी से संक्रमित या लक्षण वाली पाई जाती है तो हेल्प-लाईन नं. $91-8764879770 पर इसकी सूचना देकर सहायता प्राप्त की जा सकेगी। वहीं गैराज उपायुक्त को नोटशीट लिखकर आदेशित किया गया है कि लम्पी वाईरस से संक्रमित गायों को गौशाला लाने के लिए एक अलग एम्बुलेन्स वाहन की व्यवस्था की जाए।

Related posts

राजस्थान स्टेट मिनरल एक्सप्लोरेशन ट्रस्ट का गठन

admin

मैगनीज भंडारों की खोज के लिए जीएसआई से होगा एमओयू

admin

वर्ल्ड हैरिटेज सिटी में शामिल प्राचीन हवेली को किया ध्वस्त, जयपुर नगर निगम हैरिटेज ने नोटिस जारी करके कर ली इतिश्री

admin