अब मुख्यमंत्री के नाम से मांगे अमेजन गिफ्ट, प्रोटोकॉल ऑफिसर को किया व्हाटï्सअप मैसेज

जयपुर

जयपुर। प्रमुख विपक्षी पार्टी भाजपा लगातार राजस्थान में कानून व्यवस्था बेलगाम होने का आरोप लगा रही है। इस बीच जयपुर में साइबर ठगों के हौसले इतने बुलंद है की उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की डीपी लगा कर भी ठगी करने की कोशिश की।

बदमाशों ने मुख्यमंत्री की डीपी लगा कर प्रोटोकॉल ऑफिसर नरेश विजय को व्हाट्सएप पर मैसेज किया। स्वयं को सीएम बताते हुए बैठक में नरेश से रुपयों की मांग की साथ ही 2,00,000 के अमेजऩ गिफ्ट मांगे। जब नरेश विजय को सीएम के नाम से यह मैसेज मिला तो वह पूरे मामले को समझ गए कि यह साइबर ठगों की कारस्तानी है, क्योंकि एक दिन पूर्व ही एसीडी के एडीजी दिनेश एमएन के नाम से भी पैसे मांगने के मैसेज का मामला सामने आया था। इसके बाद उन्होंने पीएमओ के अधिकारियों को इस मामले की जानकारी दी। अब पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है। नरेश को साइबर ठग ने अपने व्हाट्सएप ऐप नंबर 960 1789 128 पर सीएम की डीपी लगे हुए फ ोन से कॉल किया।

साइबर ठगों ने सबसे ज्यादा ब्यूरोक्रेसी के अफसरों को टारगेट किया। कई मंत्रियों को भी निशाना बनाने की कोशिश की। अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम से डीपी लगा कर पैसे हुए गिफ्ट मांगने का मामला सामने आया है। इससे पहले मंत्री साले मोहम्मद, गोविंद राम मेघवाल, जाहिदा खान के नाम से भी पैसे भी गिफ्ट मांगने का मामला सामने आ चुका है। बताया जा रहा है कि पुलिस में साइबर एक्सपर्ट की कमी है। इसके चलते पुलिस इन पर शिकंजा नहीं कस पाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.