एसीबी रेड के बाद जेडीए में बड़े स्तर पर तबादले

जयपुर

जयपुर। एसीबी की रेड के बाद जयपुर विकास प्राधिकरण में विभिन्न संवर्गों के अधिकारियों के बड़े स्तर पर तबादले किए गए हैं। हाल ही में एसीबी की रेड में जेडीए के एक उपायुक्त समेत पांच अधिकारी—कर्मचारी भ्रष्टाचार के मामले में पकड़े गए थे। जेडीए में एसीबी की इस रेड के बाद से ही स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल इस रेड पर काफी सख्त दिखाई दिए और उनके निर्देशों पर यह तबादले किए गए हैं, लेकिन सवाल यह उठ रहा है कि क्या अधिकारियों को एक स्थान से हटाकर दूसरे स्थान पर लगाने से जेडीए में भ्रष्टाचार मिट जाएगा?

जयपुर विकास आयुक्त गौरव गोयल ने बताया कि नगरीय विकास, स्वायत्त शासन एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल कार्यो के नेतृत्व में जेडीए द्वारा कार्यो में पारदर्शिता लाने एवं आमजन से जुडे प्रकरणों का त्वरित निस्तारण करने के लिए जेडीए में पदस्थापित विभिन्न संवर्गो के अधिकारियों-कर्मचारियों के स्थानांतरण किये गये है।

जेडीसी ने बताया कि सुरेन्द्र सिंह यादव को जोन-1, बनवारी लाल सिनसिनवार को उपायुक्त जोन-पीआरएन दक्षिण-द्वितीय, बलवन्त सिंह लिग्री को जोन-6, नानू राम सैनी को जोन-5, अशोक कुमार योगी को जोन-14, जगत राजेश्वर को जोन-12, शेर सिंह लुहाडिया को जोन-8, विजेन्द्र कुमार मीणा को उपायुक्त जोन पीआरएन उत्तर-प्रथम, हरफूल पंकज को जोन-10, प्रवीण कुमार अग्रवाल को जोन-11, नरेश सिंह तंवर को जोन-9 के उपायुक्त को कार्यभार दिया गया।

इसी प्रकार निशा को जोन-13, ओम प्रकाश थानवी को उपायुक्त जोन पीआरएन-उत्तर, रामरतन शर्मा को उपायुक्त जोन-7, मुकेश कुमार मीणा को उपायुक्त जोन-पीआरएन दक्षिण-प्रथम, अंजू वर्मा को उपायुक्त स्टोर, मानसिंह मीणा को जोन-4, शैफाली कुशवाहा को उपायुक्त जांच, वीरेन्द्र सिंह द्वितीय को जोन-3 एवं सैयद मुकरम शाह को जोन-2 के उपायुक्त पद की जिम्मेदारी दी गई।

चन्द्र कुमार को उपायुक्त एस.एम., ओ.पी.शशी को उपायुक्त मॉनिटरिंग/रिकार्ड, रामप्रसाद मीणा को उपायुक्त वाहन, पुष्पा जैन को उपायुक्त कोर्ट कैसेज, नसीरूद्दीन को प्रभारी सिटीजन केयर सेन्टर, दामोदर लाल कुमावत को उपायुक्त पीपीसी, सुभाष बोहरा उपायुक्त लैंण्ड बैंक एवं प्रेमलता गुप्ता को उपायुक्त आर.टी.आई के पद पर यथावत रखा गया।

अतिरिक्त आयुक्त प्रशासन जुगल किशोर मीना ने बताया कि साथ ही 27 अधिशाषी अभियंताओं एवं 25 सहायक अभियंताओं, 22 तहसीलदार/नायाब तहसीलदार संवर्ग, 19 लेखा संवर्ग, 94 कनिष्ठ अभियंता, 9 सूचना सहायक, 32 नगर नियोजन संवर्ग एवं 33 मंत्रालयिक संवर्ग के अधिकारियों-कर्मचारियों के स्थानांतरण किये गये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.