जयपुरताज़ा समाचार

केशव की शरण में राजे, केशवरायपाटन में मनाया जन्मदिन

जयपुर। भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मंगलवार को अपना जन्मदिन बूंदी के केशोरायपाटन में पूजा—अर्चना के साथ मनाया। जहां भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनका स्वागत किया। राजे ने केशव राय भगवान मंदिर में दर्शन किए और पूजा-अर्चना की।

राजे केशवराय भगवान के पट बंद होने से एक मिनट पहले यहां पहुंची और शुभ मुहुर्त में भगवान के दर्शन कर पूजा-अर्चना की। राजे ने मंदिर में हवन-यज्ञ किया। इस दौरान 101 पंडितों ने मंदिर में महाजप किया।

इस पहले भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, पूर्व मंत्री यूनुस खान, सांसद रामचंद्र बोहरा, सांसद मनोज राजोरिया, विधायक प्रताप सिंह सिंघवी, विधायक चंद्राकांता मेघवाल, पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल, पूर्व विधायक ममता शर्मा सहित कई नेताओं ने राजे का स्वागत किया।

इस अवसर पर राजे ने कहा कि आज हम केशव राय भगवान से प्रार्थना करते हैं कि आप हम सब को आशीर्वाद और शक्ति दे, ताकि झूंठे सपने दिखाने वाली, किसानों से क़र्ज़ा माफ़ी का झूठा वादा करने वाली इस अशोक गहलोत सरकार को विदा करें और प्रचण्ड बहुमत के साथ प्रदेश में फिर से कमल खिला कर भाजपा की सरकार बनाए।

राजे ने कहा कि भामाशाह नारी सशक्तिकरण योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, अन्नपूर्णा रसोई, अन्नपूर्णा भंडार, स्किल डवलपमेंट, किसानों के लिए मुफ़्त बिजली योजना, ग्रामीण-शहरी गौरव पथ, मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन, मुफ़्त टोल योजना जैसी कई जन कल्याण की योजनाएं हमारी सरकार ने शुरू की थी, जिन्हें कांग्रेस सरकार ने बंद कर दिया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में विकास थम गया है।गहलोत जी की यह सरकार थोथी धोषणाओं की सरकार बन कर रह गई है। सिर्फ़ बजट में लोक लुभावनी बातों से कुछ नही होता, जो बोला गया है, उसे ज़मीन पर लाने की ज़रूरत है। इन्होंने चुनाव के समय 10 दिन में किसानों का 2 लाख तक का क़र्ज़ा माफ़ करने का वादा किया था, जो आज तक पूरा नही किया। हमारे युवा सड़कों पर हैं, क्योंकि भर्ती संस्थाओं की पारदर्शिता और पवित्रता पर दाग लग गया। प्रदेश में विकास तो हुआ पर अपराध, महिला उत्पीड़न, दुष्कर्म, दलित अत्याचार, भ्रष्टाचार और बेरोजगारी में। इन सब में राजस्थान टॉप पर है।

राजे ने कहा कि मैं देख रही हूं सिर्फ़ हाड़ौती से ही नहीं, प्रदेश के कोने-कोने से 33 ज़िलों से लोग आये हैं। यानी यहां पूरा राजस्थान है। गंगानगर,बीकानेर, जैसलमेर, बाडमेर, जालोर, सिरोही, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, सवाईमाधोपुर, करौली, धौलपुर, भरतपुर, अलवर, जयपुर, सीकर, झुंझुनू, चूरू, भीलवाड़ा, हनुमानगढ़, नागौर, जोधपुर, पाली, अजमेर, राजसमंद, टोंक और दौसा से लोग आये हैं। प्रदेश की जनता का यह प्यार,आशीर्वाद और साथ देख कर मैं हृदय से अभिभूत हूँ। आप सब मेरी ऊर्जा हो। मेरी शक्ति हो। मेरा स्वाभिमान हो। मेरा अरमान हो। इस कार्यक्रम के लिए आप सबको धन्यवाद। आप सबने मिल कर इसका आयोजन किया।

Related posts

11,000 शोधपत्र (Research paper), 350 क्लिनिकल ट्रायल्स (Clinical trials) बाद घर-घर औषधि योजना में शामिल हुई तुलसी, कालमेघ, अश्वगंधा और गिलोय

admin

जल्द खोले जाएंगे राजस्थान पर्यटन विकास निगम (RTDC) के बंद पड़े होटल, रोडमैप (Roadmap) तैयार

admin

1 विरासत है ऐतिहासिक गुलाबीनगर का परकोटा, दरबार स्कूल की जगह नई इमारत बनाने के लिए इसी परकोटे को ही ध्वस्त करने की कोशिश

admin