अधिक से अधिक महिलाओं को मिले आत्मरक्षा कौशल का प्रशिक्षण-गहलोत

जयपुर ताज़ा समाचार

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर राज्य स्तरीय कार्यक्रम

जयपुर। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में महिलाओं को सुरक्षित वातावरण प्रदान करने एवं उनके सशक्तीकरण के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने महिलाओं का आह्वान किया कि वे अन्याय, अत्याचार एवं उत्पीड़न के खिलाफ पूरी ताकत से अपनी आवाज उठाएं। इसके लिए राज्य सरकार उन्हें आत्मरक्षा कौशल प्रदान करने में किसी प्रकार की धन की कमी नहीं आने देगी।

गहलोत मंगलवार को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में बिड़ला सभागार में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर इंदिरा महिला शक्ति प्रोत्साहन एवं सम्मान योजना के तहत उल्लेखनीय कार्य करने वाले लोगों को सम्मानित किया।

गहलोत ने कहा कि वर्तमान में निर्भया स्क्वाड के माध्यम से शिक्षण संस्थाओं एवं पुलिस लाइन में महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मरक्षा कौशल का प्रशिक्षण दिया जाता है। हमारा प्रयास है कि प्रदेश की अधिक से अधिक महिलाएं यह प्रशिक्षण लें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं एवं किशोरियों की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने उड़ान योजना लागू की है। इस महत्वाकांक्षी योजना के माध्यम से हमारा प्रयास है कि हैल्थ एवं हाईजीन के प्रति जागरूकता का संदेश प्रदेश के गांव-ढ़ाणी में बसी प्रत्येक माता-बहन तक पहुंचे। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा सहयोगिनियों, सहायिकाओं, एएनएम, पटवारी सहित सभी की जिम्मेदारी है कि वे इस योजना को निचले स्तर तक सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें और प्रदेश की प्रत्येक महिला एवं किशोरी तक निःशुल्क सेनेटरी नैपकिन पहुंचे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना को लागू करने की प्रेरणा मुझे ‘पैडमैन’ फिल्म से मिली। प्रदेश की आधी आबादी महिलाओं को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ हमारी सरकार ने इसे लागू किया और 200 करोड़ रूपए का प्रावधान गत बजट में किया।

गहलोत ने कहा कि अपनी प्रतिभा, जज्बे और संघर्ष से महिलाओं ने प्रदेश का नाम रोशन किया है। जीवन के हर क्षेत्र में उनकी भागीदारी बढ़ रही है। राज्य सरकार ने महिलाओं के सशक्तीकरण, उन्हें आगे बढ़ने के समान अवसर उपलब्ध कराने तथा शिक्षित कर आत्मनिर्भर बनाने के उददेश्य से कई योजनाएं शुरू की हैं। चिरंजीवी योजना से जुड़ी 1 करोड़ 33 लाख महिला मुखियाओं को हम तीन साल की इंटरनेट कनेक्टिविटी के साथ स्मार्टफोन उपलब्ध कराएंगे। बीते तीन साल में प्रदेश में 123 कॉलेज खोले गए हैं, जिनमें से 33 महिला महाविद्यालय हैं। इस बार बजट में 36 और महिला कॉलेज खोलने की घोषणा की है।

यूएनएफपीए की भारत में कंट्री रिप्रजेंटेटिव आंद्रिया वॉनर ने कहा कि बालिका विवाह तथा शिशु मृत्यु दर को कम करने की दिशा में राजस्थान तेजी से आगे बढ़ रहा है। यूएनएफपीए लैंगिक समानता तथा समाज में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने जैसे विषयों पर राज्य सरकार के साथ सहयोग कर रहा है।

इन्हें किया सम्मानित
समारोह में गहलोत ने जोधपुर की सुशीला बोहरा को इंदिरा महिला शक्ति विशिष्ट पुरस्कार श्रेणी तथा जयपुर के आजाद फाउंडेशन को व्यक्तिगत एवं संस्थागत श्रेणी में प्रथम पुरस्कार के रूप में 51-51 हजार रूपए, प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिन्ह से सम्मानित किया। उन्होंने बांसवाड़ा की डॉ. वनिता त्रिवेदी, अजमेर के फाउंडेशन फियोर दी लोटो इंडिया आई.एन.सी. अजमेर को द्वितीय पुरस्कार, जैसलमेर की सुनीता चौधरी, जयपुर की नितिषा शर्मा को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया। साथिन एवं बाल विकासकर्मी की श्रेणी में सीकर की किरण निर्मल, बांसवाड़ा की विमला बुनकर, कोटा की संतोष मेवाड़ा तथा जैसलमेर की मूल कंवर को पुरस्कृत किया गया। महिला अधिकारिता विभाग की प्रचेता उच्छव शर्मा, आई.सी.डी.एस की महिला पर्यवेक्षक सुमन यादव को राज्य स्तरीय सम्मान प्रदान किया गया।

सीएसआर श्रेणी में हिन्दुस्तान जिंक-कौशल एवं उद्यमिता विकास संस्थान, जिंदल साउथ वेस्ट फाउंडेशन को सम्मानित किया गया। इसी प्रकार आईएम शक्ति उद्यम प्रोत्साहन योजना में बैंक द्वारा सर्वाधिक ऋण स्वीकृत करने की श्रेणी में बैंक शाखा प्रबंधक फतेहपुर शेखावाटी की मीनू गजराज एवं टमकोर (झुंझुनूं) के निलेश सहारण को पुरस्कृत किया गया। झुंझुनूं जिला कलेक्टर लक्ष्मण सिंह कुड़ी, उपनिदेशक महिला अधिकारिता झुंझुनूं विप्लव न्यौला तथा झुंझुनूं के अग्रणी जिला प्रबंधक रतनलाल वर्मा को आईएम शक्ति उद्यम प्रोत्साहन योजनान्तर्गत सर्वाधिक ऋण स्वीकृत करने वाले जिलाधिकारी के रूप में सम्मानित किया गया। साथ ही, बालिका सुरक्षा एवं संरक्षण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने पर पुलिस आयुक्तालय, जयपुर की निर्भया स्क्वाड को प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.