logo for clear news

गहलोत ने साधा केंद्र सरकार और ईडी पर निशाना, कहा 2015 में जिस केस को क्लोज कर दिया था, उसे किसके कहने पर ED ने फिर से खोला

जयपुर

जयपुर। नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से दूसरे दिन पूछताछ पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ईडी पर निशाना साधा। गहलोत ने कहा कि जब 2015 में इस केस को क्लोज कर दिया गया था, तो इसके बाद इसी केस को दोबारा खोलने की क्या जरूरत पड़ी? किसके कहने पर इसे रिओपन किया गया? यह बताया जाना चाहिए किसके इशारे पर ईडी काम कर रही है?

नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मंगलवार को लगातार दूसरे दिन भी ईडी ने पूछताछ कर रही है। सोमवार को 10 घंटे पूछताछ के बाद आज फिर से कांग्रेस नेता राहुल गांधी को ईडी दफ्तर पूछताछ के लिए बुलाया, वहीं दूसरी और कांग्रेस इसे लेकर सत्याग्रह कर रही है। सत्याग्रह के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आखिर ईडी किसके इशारे पर काम कर रही है, यह बताना चाहिए?

इस दौरान गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 2015 के बाद में ED ने केस को बंद कर दिया था। अब ED बताए कि किसके कहने पर यह केस खोला गया। आज हर तरफ तनाव का माहौल बना दिया गया है जैसे कि कोई देश मे बड़ा घोटाला हो गया हो। ईडी के जॉइंट डायरेक्टर और आईओ ने सोनिया और राहुल गांधी के बारे में तमाम आर्ग्यूमेंट्स देकर केस क्लोज कर दिया था। उसके बाद में क्या कारण रहे होंगे जिसके चलते केस को फिर से खोला गया है। टारगेट करके इस प्रकार की हरकत की गई है। गहलोत ने कहा कि जिस तरह से राजनीतिक द्वेष से कार्रवाई की जा रही है, उससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। पूरे देश में 8 साल से यही तमाशा हो रहा है। ईडी, इनकम टैक्स, सीबीआई का तमाशा बर्दाश्त करते-करते लोग दुखी हो गए हैं।

गहलोत ने कहा कि में प्रधानमंत्री नरेंद मोदी से कहना चाहूंगा कि ईडी के छापे बंद करवाएं। मैने कल ईडी, सीबीआई डायरेक्टर और सीबीडीटी और इनकम टैक्स चैयरमैन से मिलने का समय मांगा था, लेकिन समय नहीं दिया गया। इन एजेंसियों को चाहिए कि वे दबाव से मुक्त होकर काम करें। अगर इन्हें गलत काम के लिए कहा जाए, तो इनमें हिम्मत होनी चाहिए, मना करने के लिए।

गहलोत ने बीजेपी, आरएएस और केंद्र सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि आठ साल में देश में करप्शन तेजी से फैला है। इसकी तरफ ED का ध्यान नहीं जाता। इनके खुद के इतने लोग हैं, चाहे RSS के हों या BJP के हों, सब ने लूट मचा रखी है। राहुल गांधी से ED रात को 12 बजे तक पूछताछ करती है। ऐसा कौनसा गुनाह कर दिया या कौनसी अरबों-खरबों की मनी लॉन्ड्रिंग हो गई? जहां अरबों-खरबों की मनी लॉन्ड्रिंग होती है, वहां तो पूछते नहीं हैं।

गहलोत ने कहा कि बेरोजगारी, महंगाई जैसे देश के वास्तविक मुद्दे छुपाने के लिए हिंदू-मुस्लिम किया जा रहा है। केन्द्र सरकार की ओर से विपक्ष को कुचलने का काम किया जा रहा है। नेशनल हेराल्ड केस एक झूठा केस है। उस अखबार को स्थापित करने के लिए कांग्रेस ने हमेशा मदद की। दुर्भाग्य की बात है कि टारगेट करके ईडी जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग किया जा रहा है। लोकतंत्र की हत्या हो रही है, लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.