राजस्थान में जल जीवन मिशन के तहत 60 हजार से अधिक स्कूलों को जोड़ा नल कनेक्शन से

जयपुर

हैल्थ सेंटर्स को जल कनेक्शन से जोड़ने में राजस्थान पहले पायदान पर

जयपुर। जल जीवन मिशन में राजस्थान अब तेजी से आगे बढ़ रहा है। करीब 26 लाख 30 हजार घरों को नल कनेक्शन से जोड़ने के साथ ही प्रदेश में 9 हजार 580 हैल्थ सेंटर्स को नलों के माध्यम से पेयजल कनेक्शन से जोड़ा जा चुका है। संख्या के आधार पर देखें तो हैल्थ सेंटर्स को जल कनेक्शन से जोड़ने में राजस्थान पूरे देश में पहले स्थान पर है।

राजस्थान में अब 86 हजार 217 स्कूलों में से 60 हजार 772 यानी करीब 68 फीसदी स्कूलों को नल के माध्यम से पेयजल मिलने लगा है। स्कूलों को जल कनेक्शन से जोड़ने की संख्या के आधार पर प्रदेश पांचवे स्थान पर है। जल जीवन मिशन में अब तक 31 हजार 208 आंगनबाड़ियों को भी जल कनेक्शन से जोड़ा जा चुका है। 11 हजार 200 ग्राम पंचायत भवनों में से 8 हजार 955 ग्राम पंचायत भवन भी जल कनेक्शन से जुड़ चुके हैं।

सर्वाधिक 10 हजार 438 विद्यालय उदयपुर रीजन के छह जिलों में नल कनेक्शन से जोड़े गए हैं। इनके अलावा 6697 अजमेर रीजन के चार जिलों में, 6386 बीकानेर रीजन के तीन जिलों में, 5514 भरतपुर रीजन के चार जिलों में, 6168 जयपुर रीजन-प्रथम के तीन जिलों में, 4377 जयपुर जिले में, 6162 जोधपुर रीजन-प्रथम के दो जिलों में, 5443 जोधपुर रीजन-द्वितीय के चार जिलों में, 5195 कोटा रीजन के चार जिलों में, 2407 अलवर एनसीआर में तथा 1985 विद्यालय चूरू में नलों के माध्यम से पेयजल कनेक्शन से जोड़े गए हैं।

आंगनबाडियों को पेयजल कनेक्शन का देखें तो उदयपुर रीजन के छह जिलों में 4324 आंगनबाडियां नल कनेक्शन से जोड़ी जा चुकी हैं। इनके अलावा 3631 अजमेर रीजन के चार जिलों में, 3762 बीकानेर रीजन के तीन जिलों में, 3211 भरतपुर रीजन के चार जिलों में, 3204 जयपुर रीजन-प्रथम के तीन जिलों में, 1762 जयपुर जिले में, 3249 जोधपुर रीजन-प्रथम के दो जिलों में, 2657 जोधपुर रीजन-द्वितीय के चार जिलों में, 3140 कोटा रीजन के चार जिलों में, 989 अलवर एनसीआर में तथा 1279 आंगनबाडियां चूरू में नलों के माध्यम से पेयजल कनेक्शन से जोड़ दी गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.