डोटासरा का शाह पर जवाबी हमला, कहा मंहगाई से त्रस्त जनता को लेकर एक शब्द नहीं बोले अमित शाह

जयपुर

केवल गजेन्द्र सिंह शेखावत की लांचिंग के लिए आए थे गृह मंत्री

जयपुर। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के जयपुर दौरे कांग्रेस की राज्य सरकार पर कसे तंज का जवाब देने के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा सामने आए। उन्होंने मंहगाई और भाजपा में फैली गुटबाजी को लेकर बीजेपी पर हमला बोला।

डोटासरा ने रविवार को पीसीसी में संवाददाताओं से कहा कि शाह का दौरा केवल अपने मित्र केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को आगामी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का चेहरा बनाने का प्रयास करने भर तक सीमित रहा है। अमित शाह ने देश में बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर एक शब्द भी नहीं बोला, जबकि देश की जनता महंगाई से त्रस्त है, केन्द्र सरकार के खिलाफ आक्रोश है, जनता की आवाज को बुलन्द करने के लिए कांग्रेस पार्टी महंगाई हटाओ महारैली का आयोजन कर रही है। डोटासरा ने कहा कि अमित शाह ने जनता के समक्ष झूठे तथ्य एवं राज्य सरकार के विरूद्ध तथ्यहीन अनर्गल आरोप लगाने का कार्य किया है जो कि राजस्थान सरकार द्वारा किए गए कार्यों से अनभिज्ञता को दर्शाता है।

डोटासरा ने कहा कि शाह जिस क्षेत्र के दौरे पर गए थे वहां के सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री को अपने साथ लेकर नहीं गए और न ही स्वागत सामग्री में क्षेत्रीय सांसद जो कि केन्द्रीय मंत्री है का फोटो था बल्कि केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह साथ रहे। उन्होंने कहा कि जयपुर में आयोजित होने वाले जनप्रतिनिधि सम्मेलन में भाजपा के सबसे वरिष्ठ जनप्रतिनिधि नेता प्रतिपक्ष को भाषण देने का मौका तक नहीं मिला, जो स्पष्ट करता है कि भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव के लिए किसे चुनावी चेहरा घोषित करने वाली है।

उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों के प्रति हमेशा से सौतेला व्यवहार रहा है, जिस कारण किसानों को 12 महिनों तक सडक़ों पर बैठकर केन्द्र सरकार के विरूद्ध आंदोलन करना पड़ा तथा अब इस सम्मेलन के माध्यम से किसान पुत्रों, जो कि भाजपा के ही नेता है को तवज्जो ना देकर अपमान करने का कार्य किया है। शाह को भाजपा की राज्य इकाई ने सही जानकारी प्रदान नहीं की कि राजस्थान सरकार ने पूर्व में ही पेट्रोल एवं डीजल पर 4 और 5 रुपए वैट कम कर दिया है, अन्यथा प्रदेश में वैट कम करवाने के लिए सरकार के खिलाफ आंदोलन की बात शाह नहीं करते।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का 5 वर्ष का कार्यकाल पूरा करने में किसी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं करने की बात खिसयानी बिल्ली खम्भा नोचे तथा अंगूर खट्टे होने की कहावत चरित्रार्थ करती है। शाह का 2023 में राजस्थान में भाजपा की सरकार बनाने का दावा स्वप्नभर रह जाएगा जबकि गुड गवर्नेन्स तथा लोक कल्याणकारी कार्यों के बलबूते पर कांग्रेस पुन: 2023 में राजस्थान में सरकार बनाएगी।

कांग्रेस कमेटी द्वारा महंगाई हटाओ रैली का आयोजन दिल्ली में किया जा रहा था किंतु केन्द्र की निरंकुश तानाशाह मोदी सरकार ने रैली की अनुमति निरस्त करवा कर अपने अलोकतांत्रिक होने का परिचय दिया है। कांग्रेस पार्टी केन्द्र सरकार की निरंकुशता से विचलित हुए बिना गरीब की आवाज केन्द्र सरकार तक पहुंचाने और केन्द्र को नींद से जगाने के लिए महंगाई हटाओ रैली का आयोजन 12 दिसंबर को जयपुर में होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.