मुख्यमंत्री गहलोत ने जोधपुर पहुंचकर गैस सिलेण्डर दुर्घटना में घायलों की पूछी कुशलक्षेम

जयपुर

सहायता राशि की घोषणा, लोगों की जान बचाने में घायल पुलिसकर्मी को मिलेगा गैलंट्री प्रमोशन, घायलों के बेहतर उपचार के लिए हरसंभव प्रयासों के दिए निर्देश

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को जोधपुर के महात्मा गांधी अस्पताल पहुंच कर शेरगढ़ क्षेत्र के भूंगरा में हुई गैस सिलेण्डर दुर्घटना के घायलों की कुशलक्षेम पूछी तथा उनके उपचार के बारे में जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने चिकित्सकों को घायलों के समुचित इलाज के लिए निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि दुर्घटना में घायलों के और बेहतर इलाज के लिए जयपुर से डॉक्टर्स की स्पेशल टीम रवाना हो चुकी है।

मुख्यमंत्री ने दुर्घटना को हृदय विदारक बताया, उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। उन्होंने कहा कि सरकार विपदा की इस घड़ी में उनके साथ है, घायलों के हरसंभव उपचार के लिए तमाम जरूरी प्रबन्ध किए गए हैं। गहलोत ने कहा कि इस समय सर्वाेच्च प्राथमिकता प्रत्येक घायल को बचाने की है और इस दिशा में कहीं कोई कमी नहीं रखी जाएगी। इसके लिए जिला प्रशासन और चिकित्सा प्रबन्धन को सभी जरूरी निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना के दौरान प्रशासन, पुलिस एवं ग्रामीणों द्वारा संवेदनशीलता दिखाते हुए किये गये सहयोग को सराहा। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में इस प्रकार के आचरण से मानवीय संवेदना और अपनायत का भाव आपसी सौहार्द को बढ़ावा देता है।

ऐसी दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए गाइडलाइन बनाने के निर्देश

गहलोत ने कहा कि दुर्घटना के बाद से ही वे लगातार जिला प्रशासन के सम्पर्क में हैं और घायलों के इलाज के बारे में अपडेट ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि कई महिलाएं व बच्चे अत्यधिक रूप से झुलसे हैं, यह चिन्ताजनक है। इस स्थिति में डॉक्टरों से बातचीत कर समुचित इलाज प्रदान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दुर्घटना की जांच के लिए जिला कलक्टर को भी निर्देश दिए गए हैं। गहलोत ने जिला कलक्टर को गैस एजेंसियों से संवाद कर उन्हें नियमित मेंटेनेंस एवं नई गाइडलाइंस बनाने के निर्देश दिए ताकि इस प्रकार की दुर्घटनाओं को रोका जा सके।

मृतकों के परिजनों को 7-7 लाख रूपए की सहायता राशि
मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना अंतर्गत 5-5 लाख रुपए प्रति परिवार दिए जाने की घोषणा की है। साथ ही, मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए तथा घायलों के लिए 1-1 लाख रुपए की सहायता राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष से दिए जाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने भूंगरा दुर्घटना में पूरी सूझबूझ और वीरता का परिचय देने वाले कांस्टेबल डूंगर सिंह को कर्तव्यनिष्ठा के लिए हेड कांस्टेबल पद पर गैलंट्री/आउट ऑफ टर्न प्रमोशन देने की घोषणा की है। इस दौरान आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत, शहर विधायक मनीषा पंवार, महापौर कुन्ती देवड़ा परिहार, शेरगढ विधायक मीना कंवर सहित जनप्रतिधिगण एवं अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *