राहुल गांधी के विरूद्ध की गई कार्यवाही भाजपा का अंतिम हथियार, हम भाजपा की ईंट से ईंट बजा देंगे : डोटासरा

जयपुर

ईडी कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने दिया धरना

जयपुर, 16 जून। केन्द्र सरकार द्वारा संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग कर विपक्षी नेताओं का दमन करने की नीति के विरोध में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के नेतृत्व में हजारों की संख्या में कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जयपुर में राजभवन का घेराव किया। सिविल लाईन्स फाटक पर धरना देकर विरोध-प्रदर्शन किया।

धरने को सम्बोधित करते हुए डोटासरा ने कहा कि देश में पिछले 8 वर्ष से हिटलरशाही सरकार का शासन चल रहा है जिसके काम करने के तरीके को अब जनता पहचान चुकी है। अब मोदी सरकार पर जब सवाल उठाये जाने लगे और 8 वर्ष के शासन का हिसाब मांगा गया, तो मोदी सरकार ने संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग विपक्षी नेताओं के दमन के लिये करना प्रारम्भ कर दिया।

उन्होंने कहा कि देश में बढ़ती मंहगाई, बढ़ती बेरोजगारी, देश की सीमाओं की रक्षा जैसे ज्वलंत मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिये केन्द्र सरकार के ईशारे पर ईडी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं कांग्रेस नेता राहुल गांधी को ईडी का नोटिस दिया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी जनता की आवाज उठाते हैं तथा मोदी सरकार के किसी भी षडय़ंत्र से ना तो डरेंगे और ना झुकेंगे। राहुल गांधी एवं उनके परिवार का योगदान देश की जनता जानती है। देश को आजाद कराने से लेकर आज के विकसित राष्ट्र के निर्माण में पूर्व प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू, स्व. इंदिरा गांधी एवं स्व. राजीव गांधी का महत्वपूर्ण योगदान है। केन्द्र सरकार ने राहुल गांधी को ही चुनौती नहीं दी है, बल्कि देश के स्वाभिमान को चुनौती देने का कार्य किया है।

उन्होंने कहा कि जब वे स्वयं कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली गये तो बॉर्डर पर ही दिल्ली पुलिस ने रोक लिया। उन्होंने जब कारण पूछा तो दिल्ली पुलिस ने कहा कि उनके दिल्ली प्रवेश पर रोक है, आप चाहे तो इसे आपातकाल ही समझ लें। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में जाने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं नेताओं को रोका गया तथा जब पुलिस ने मुख्यालय में प्रवेश कर लाठीचार्ज किया एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं व नेताओं को गिरफ्तार किया तो कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ वे स्वयं बाहर धरने पर बैठे और निर्णय लिया गया कि पूरे देश में कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन का घेराव कर केन्द्र सरकार की चुनौती का जवाब देकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

डोटासरा ने कहा कि ईडी द्वारा की जा रही कार्यवाही ने मोदी सरकार की कलई खोल दी है। राहुल गांधी के विरूद्ध की गई कार्यवाही भाजपा का अंतिम हथियार है, इस चुनौती का सभी कांग्रेसजन एकता के साथ पुरजोर जवाब देंगे। कांग्रेस का एक कार्यकर्ता भी भाजपा से जारी इस लड़ाई में पीछे नहीं हटेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के समस्त नेता एवं कार्यकर्ता अपने नेतृत्व के लिये जान देने से भी पीछे नहीं हटेंगे तथा स्वाभिमान की इस लड़ाई में वीरों की धरती के सपूत जो किसी भी प्रकार के बलिदान से नहीं डरते हैं, भाजपा की ईंट से ईंट बजा देंगे।

धरने में मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला, डॉ. महेश जोशी, प्रतापसिंह खाचरियावास, शांति धारीवाल, ममता भूपेश, रामलाल जाट, शकुंतला रावत, गोविन्द राम मेघवाल, परसादीलाल मीणा, भजनलाल जाटव, राज्यमंत्री बृजेन्द्रसिंह ओला, अशोक चांदना, विधायक डॉ. जितेन्द्र सिंह, अमीन कागजी, नरेन्द्र बुढानिया, बाबूलाल नागर, रफीक खान, हाकम अली, साफिया जुबेर खान, गायत्री त्रिवेदी, गोपाल मीणा, अमित चाचाण, सीताराम लाम्बा, डॉ. अर्चना शर्मा, संदीप सिंह चौधरी, महेन्द्र गहलोत, डूंगरराम गेदर, रामसिंह राव, उपाध्यक्ष राजेन्द्र चौधरी, मुख्यालय सचिव ललित तूनवाल, रामसिंह कस्वां, प्रवक्ता स्वर्णिम चतुर्वेदी, आर. सी. चौधरी, सचिव जसवंत गुर्जर सहित हजारों की संख्या में कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.