जयपुर

सोनिया का कांग्रेस के बड़े नेताओं को संदेश, कहा पार्टी ने आपको बहुत कुछ दिया, अब कर्ज उतारने का समय

उदयपुर में कांग्रेस का नव संकल्प चिंतन शिविर

जयपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि पार्टी ने हमें बहुत कुछ दिया है, अब कर्ज उतारने का समय है। उन्होंने कांग्रेस के बड़े नेताओं को त्याग करके पार्टी हित में काम करने की नसीहत दी। सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति में कही गई बात को आज खुले में दोहराई और कहा कि ऐसा समय आया है कि हमें संगठन हितों के अधीन काम करना होगा। सबसे आग्रह है कि खुलकर अपने विचार रखें, मगर बाहर एक ही संदेश जाना चाहिए संगठन की मजूबती, मजबूत निश्चय और एकता का।

उदयपुर में शुक्रवार को कांग्रेस के नव संकल्प चिंतन शिविर के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि विफलताओं से हम बेखबर नहीं हैं। न हम बेखबर हैं उन संघर्ष और कठिनाइयों से जिनका हमें आगे सामना करना है। लोगों की उम्मीदों से हम अनजान नहीं है। आज हम यह प्रण लेने इकट्ठा हुए हैं कि हम देश की राजनीति में अपनी पार्टी को उसी भूमिका में लाएंगे जो सदैव निभाई है। जिस भूमिका की उम्मीद इस बिगड़ते समय में देश की जनता करती है। हम आत्मनिरीक्षण कर रहे हैं। यह तय करें कि यहां से निकलें तो एक नए आत्मविश्वास और कमिटमेंट से प्रेरित होकर निकलेंगे।

सोनिया गांधी ने कहा कि आज पार्टी के सामने असाधारण परिस्थितियां हैं। असाधारण परिस्थितियों का मुकाबला असाधारण तरीके से ही किया जा सकता है। हर संगठन को जीवित रहने बढ़ने के लिए भी अपने अंदर पैनापन लाना होता है। हमें सुधारों की सख्त जरूरत है। हमारे लिए रणनीतिक बदलाव, ढांचागत सुधार और रोजाना काम करने के तरीके में बदलाव सबसे जरूरी मुद्दा है। हमारा उत्थान सामूहिक प्रयासों से ही हो पाएगा। ये प्रयास न आगे जा सकते हैं, न टाले जा सकते हैं।

गांधी ने भाजपा और केंद्र सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार देश में डर और असुरक्षा का माहौल पैदा कर रही है। अल्पसंख्यकों को डराया जा रहा है। धर्म के नाम पर पॉलराइजेशन किया जा रहा है। अल्पसंख्यक हमारे देश में बराबर के नागरिक हैं। यह हमारी पुरानी बहुलवादी कल्चर का परिचायक है। विविधता में एकता ही हमारी पहचान रही है।

सोनिया गांधी ने कहा कि आज राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाया जा रहा है, जांच एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। इतिहास को फिर से लिखने की कोशिश की जा रही है, जिसमें पंडित नेहरू के योगदान और देश के लिए त्याग को योजनाबद्ध तरीके से कम करके दिखाने का प्रयास हो रहा है। ये लोग महात्मा गांधी के हत्यारे का महिमामंडन कर रहे हैं और गांधी के सिद्धांतों को मिटा रहे हैं। देश के पुराने मूल्यों को खत्म किया जा रहा है। दलित आदिवासी और महिलाओं में असुरक्षा का माहौल है। देश में डर का माहौल बनाया जा रहा है। देश में लोगों को लड़ाने का बीजेपी लगातार प्रयास कर रही है।

ये झूठे फरेबी लोग हैं, काम कम करते हैं, मार्केटिंग ज्यादा करते हैं: गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि यूपीए सरकार के समय में लोग क्या कहेंगे इसका ध्यान रखा जाता था। आज ये लोग धर्म के नाम पर देश पर काबिज हो गए हैं। धर्म जाति ऐसी चीज है कि आप दंगे भड़का सकते हो। अब राजस्थान तो दंगाइयों का टारगेट नंबर वन है। सीबीआई, ईडी का छापा शुरू हो जाता हे। इनके लोग दूध के धुले हैं, इन पर कोई छापा नहीं पड़ता।

गहलोत ने कहा कि देश 70 साल में कहां से कहां पहुंच गया। कांग्रेस के सिद्धांत, नीतियां देश के डीएनए की तरह हैं। ये बेशर्मी से कहते हैं कि कांग्रेस ने 70 साल में क्या किया? हमारी कमजोरी है कि हम काम करते हैं, लेकिन मार्केटिंग नहीं करते। ये झूठे फरेबी लोग हैं, काम कम करते हैं, मार्केटिंग ज्यादा करते हैं। कभी गुजरात मॉडल की बात करते हैं।

Related posts

राजस्थान मौसम: जुलाई में आएगा मानसून , इन जगहों पर जारी किया गया भारी बारिश का अलर्ट

Clearnews

नवगठित 23 नगरीय निकायों में होगा सड़कों का सुदृढ़ीकरण

admin

कोरोना (corona) की दूसरी लहर में समझ में आया ऑक्सीजन का महत्व, पर्यावरण दिवस (environment day) पर वन विभाग आमेर (Amber) में विलायती बबूल के जंगल को हटाकर बना रहा ऑक्सीजन पार्क (oxygen park)

admin