10 दिन पूर्व पंजाब में हत्या के आरोपी गैंगस्टर का जयपुर में एनकाउंटर, पैर में लगी गोली, जयपुर में किराए का कमरा लेकर काट रहा था फरारी

जयपुर

जयपुर। पंजाब के फरीदकोट में 10 नवंबर को डेरा प्रेमी प्रदीप सिंह की हत्या में आरोपित एक गैंगस्टर को पंजाब पुलिस ने राजस्थान पुलिस के सहयोग से पकड़ लिया। इस दौरान दोनों ओर से हुई फायरिंग में गैंगस्टर के पैर में गोली लग गई। घायल गैंगस्टर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के अनुसार पंजाब का गैंगस्टर राज हुड्‌डा किराए का कमरा लेकर जयपुर में छिपा था। राज ने जयपुर के रामनगरिया इलके की ज्ञानविहार कॉलोनी में छात्र बनकर एक कमरा किराए पर लेकर रह रहा था।

राजस्थान पुलिस के अनुसार पंजाब पुलिस को एक दिन पहले ही गैंगस्टर के जयपुर में होने की जानकारी मिली। रविवार सुबह ही पंजाब पुलिस के एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स के डीएसपी विक्रम बराड़ ने लोकल पुलिस से मदद मांगी थी। इस पर कमिश्नरेट स्पेशल टीम-एंटी टेरर स्क्वॉयड की मदद ली। पुलिस दल ने दोपहर 2.30 बजे बदमाश राज हुड्‌डा को पकड़ने के लिए ज्ञानविहार कॉलोनी स्थित उसके कमरे पर दबिश दी।

इस दौरान बदमाश ने भागने का प्रयास किया, जिसे पंजाब पुलिस घेर लिया। बदमाश ने पुलिस पर फायरिंग की। कॉलोनी में फायरिंग की आवाज सुनकर पहले लोग बाहर आए, लेकिन पुलिस को देखकर वापस घरों में घुस गए। थोड़ी देर तो लोग समझ ही नहीं पाए की क्या हो रहा है? लोगों ने बताया कि पुलिस ने बदमाश को पकड़ने के लिए माइक पर भी आवाज लगाई, लेकिन बदमाश नहीं माना। पंजाब पुलिस की जवाबी फायरिंग में गैंगस्टर के पैर पर गोली लगी। पुलिस बदमाश को पकड़कर पास के प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां से उसे एसएमएस हॉस्पिटल रैफर कर दिया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है।


मुठभेड़ के बाद रामजन खान उर्फ राज हुड्डा के पकड़े जाने की पुष्टि पंजाब पुलिस के डीजीपी गौरव यादव ने की। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स का राजस्थान पुलिस के साथ ऑपरेशन सफल रहा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि डेरा प्रेमी की हत्या में शामिल राज हुड्डा को मुठभेड़ के बाद पकड़ लिया गया है।

उल्लेखनीय है कि 10 नवंबर को श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी केस के आरोपी डेरा प्रेमी प्रदीप सिंह की पंजाब के फरीदकोट में हत्या कर दी गई। प्रदीप को उस समय निशाना बनाया गया, जब वह अपनी दुकान खोल रहा था। 2 मोटरसाइकिल सवार 5 बदमाशों ने उन पर कई गोलियां चलाईं। इस हमले में गनमैन समेत तीन लोग जख्मी हो गए हैं। इनमें पास का एक दुकानदार भी शामिल था। उधर, इस हत्या की जिम्मेदारी गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने ली थी। गोल्डी बराड़ पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के कत्ल का मास्टरमाइंड है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *