All sections of the society declared the Rajasthan budget 2021-22 positive in view of the corona disease circumstances

सभी वर्गों ने राजस्थान बजट 2021-22 को कोरोनाकाल की परिस्थितियों के मद्देनजर सकारात्मक बताया

जयपुर

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार, 24 फरवरी को विधानसभा में बजट पेश किया। बजट पेश होने के बाद सभी वर्गों ने इसे कोरोना काल के बाद की परिस्थितियों के मद्देनजर अच्छा बजट बताया है। बजट में स्वास्थ्य और शिक्षा पर फोकस रहा। वहीं पर्यटन क्षेत्र के लिए भी अच्छी घोषणाएं की गई। बजट में नया टैक्स नहीं लगने पर प्रदेश के व्यापारियों ने भी राहत की सांस ली है।

WhatsApp Image 2021 02 24 at 8.37.52 PM
संजय कौशिक, पर्यटन विशेषज्ञ

पर्यटन विशेषज्ञ संजय कौशिक का कहना है कि पर्यटन क्षेत्र के लिए सरकार ने काफी अच्छे प्रावधान किये हैं। कोरोना काल के बाद पर्यटन क्षेत्र को केंद्र और राजस्थान राज्य सरकार से काफी आशाएं थी क्योंकि महामारी के दौर में पर्यटन क्षेत्र के हालात खराब चल रहे हैं। आज जो राजस्थान का 2021-22 का बजट पेश किया गया है उससे से प्रदेश के पर्यटन उद्योग को एक नई संजीवनी मिलेगी। हम चाहते हैं कि मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाएं जल्द धरातल पर आएं, ताकि पर्यटन उद्योग फिर से पटरी पर लौट सके।

WhatsApp Image 2021 02 24 at 7.53.06 PM
अरुण अग्रवाल, राजस्थान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के सचिव व प्रवक्ता

फोर्टी के कार्यकारी अध्यक्ष व राजस्थान चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के सचिव व प्रवक्ता अरुण अग्रवाल ने कहा कि कोरोनाकाल के बाद यह काफी सकारात्मक बजट है। बजट में कोई नया टैक्स या शुल्क नहीं लगाया गया है। हमारी अधिकांश मांगों को सरकार ने माना है। मंडी टैक्स कम किया गया है। एम्नेस्टी स्कीम को लागू किया गया है। डीएलसी रेट को दस फीसदी कम किया गया है। सरकार को बिजली के बिल जो दो महीने किए गए हैं, उस पर पुनर्विचार करना चाहिए क्योंकि इसकी मार गरीब और मध्यम वर्ग पर ज्यादा पड़ेगी। सबसे अच्छी बात यह रही कि सरकार ने अगले वर्ष से कृषि बजट को अलग करने की बात कही है।

WhatsApp Image 2021 02 24 at 6.11.13 PM
किशोर कुमार टांक, राजस्थान दुकानदार महासंघ के अध्यक्ष

राजस्थान दुकानदार महासंघ के अध्यक्ष किशोर कुमार टांक ने बजट को संतुलित बताया और कहा कि बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया, लेकिन प्रदेश के व्यापारी वर्ग को बजट से जो उम्मीदें थी, वह इसमें पूरी नहीं हो पाई है। कोरोना काल में सबसे ज्यादा नुकसान व्यापारी वर्ग ने उठाया था, लेकिन सरकार की ओर से अभी तक भी व्यापारियों को राहत प्रदान नहीं की गई है।

WhatsApp Image 2021 02 24 at 6.18.02 PM
सुभाष गोयल, जयपुर व्यापार महासंघ के अध्यक्ष

जयपुर व्यापार महासंघ के अध्यक्ष सुभाष गोयल का कहना है कि राजस्थान का वर्ष 2021-22 का बजट काफी सकारात्मक रहा। सरकार द्वारा जनता पर नया कर नहीं लगाने, ईवे बिल की सीमा 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख करने, 10 हजार लघु उद्योगों को प्रोत्साहन देना, पूर्व में वैट डिमांड पर लगाया गया जुर्माना माफ करना आदि कदम सराहनीय है।

WhatsApp Image 2021 02 24 at 7.29.50 PM
सुरेश सैनी, राजस्थान दुकानदार महासंघ के जयपुर जिलाध्यक्ष

फोर्टी सचिव और राजस्थान दुकानदार महासंघ के जिलाध्यक्ष सुरेश सैनी का कहना है कि यह बजट सबके लिए राहत वाला बजट है। एमएसएमई क्षेत्र के लिए यह सबसे अच्छ बजट है। स्टॉप ड्यूटी 50 लाख के ऊपर दो फीसदी की गई है। राजधानी जयपुर के लिए बजट की गई घोषणाएं भी सराहनीय है। नया टैक्स लगाकर व्यापारी और आम जनता को राहत प्रदान की गई है। किसान, कर्मचारी, युवा के लिए बेहतरीन बजट है। बजट में जादूगर ने अपनी जादूगरी दिखाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *