ढाकाराजनीति

भारत बांग्लादेश का ‘महान मित्र’, हमारे बीच अद्भुत संबंध हैं: चुनाव जीतने के बाद पीएम शेख हसीना ने कही बड़ी बातें

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना लगातार पांचवीं बार देश की सत्ता संभालने जा रही हैं। हसीना ने अपनी चुनावी जीत के बाद कहा कि भारत बांग्लादेश का एक महान मित्र है और हमारे बीच अद्भुत संबंध हैं। पीएम शेख हसीना ने राजधानी ढाका में अपने आधिकारिक निवास गणभवन में मीडिया को संबोधित किया।
बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना लगातार पांचवीं बार देश की सत्ता संभालने जा रही हैं। यानी कि हसीना लगातार पांचवीं बार बांग्लादेश की प्रधानमंत्री बनने जा रही हैं। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने अपनी चुनावी जीत के बाद कहा कि भारत बांग्लादेश का एक ‘महान मित्र’ है और हमारे बीच अद्भुत संबंध हैं।
प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा, ‘भारत बांग्लादेश का बहुत अच्छा दोस्त है। उन्होंने 1971 और 1975 में हमारा समर्थन किया है। हम भारत को अपना पड़ोसी मानते हैं। मैं वास्तव में सराहना करती हूं कि भारत के साथ हमारे अद्भुत रिश्ते हैं। अगले 5 सालों में हमारा ध्यान आर्थिक प्रगति और हमने जो भी काम शुरू किया है, उसे पूरा करना होगा।’
जनता और देश का विकास ही हमारा मुख्य उद्देश्य- पीएम
उन्होंने कहा, ‘हमने अपना घोषणापत्र पहले ही घोषित कर दिया है और जब भी हम अपना बजट बनाते हैं और अपने वादों को पूरा करने का प्रयास करते हैं तो हम अपने चुनावी घोषणापत्र का पालन करते हैं। जनता और देश का विकास ही हमारा मुख्य उद्देश्य है।’
जो आतंकवादियों से संबंध रखते हैं वह चुनाव से डरते हैं
पीएम शेख हसीना ने राजधानी ढाका में अपने आधिकारिक निवास गणभवन में मीडिया को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘जो लोग आतंकवादी संगठनों से संबंध रखते हैं या अवैध गतिविधियों में लगे हुए हैं, वह चुनाव से डरते हैं और चुनाव लड़ने से भी बचते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग जनता की जीत में योगदान देते हैं, मेरी जीत में नहीं।’
चुनाव में छिटपुट हिंसा हुई
बता दें कि रविवार को छिटपुट हिंसा और मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनालिस्ट पार्टी (बीएनपी) और उसके सहयोगियों के बहिष्कार के बीच हुए 12वें आम चुनावों में शेख हसीना की पार्टी अवामी लीग ने 200 सीटों पर जीत हासिल की। उनकी पार्टी ने दो तिहाई बहुमत हासिल किया है।
पीएम हसीना को 2,49,965 वोट मिले
वहीं, विपक्षी जातीय पार्टी को 10 और निर्दलीय 45 उम्मीदवारों को जीत मिली है। शेख हसीना ने गोपालगंज-3 सीट से 1986 के बाद आठवीं बार जीत हासिल की। उन्हें 2,49,965 वोट मिले, जबकि उनके विरोधी प्रतिद्वंदी बांग्लादेश सुप्रीम पार्टी के उम्मीदवार एम. निजामुद्दीन लश्कर को महज 469 वोट मिले।

Related posts

जिन कुमार विश्वास ने राहुल गांधी को कहा “पप्पू”, उनकी पत्नी डॉ. मंजू को ही आरपीएससी का सदस्य बनाया

admin

मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में दबाव बनाने वालों की 1 नहीं चलेगी, मुख्यमंत्री स्वविवेक से लेंगे फैसला

admin

2025 तक राजस्थान को क्षयमुक्त बनाना हमारा ध्येयः गहलोत

Clearnews