election of gram panchayat in rajasthan

चार चरणों में होंगे 3848 ग्राम पंचायतों के चुनाव

जयपुर राजनीति

जयपुर। राज्य निर्वाचन आयोग ने राजस्थान की बची हुई 3848 ग्राम पंचायतों के सरपंचों और पंचों के चुनाव का ऐलान कर दिया है। निर्वाचन आयोग ने इसकी अधिसूचना जारी करते हुए 4 चरणों में मतदान करवाए जाने की घोषणा की।

पंचायती राज संस्थाओं के सरपंच एवं पंच पद के आम चुनाव 2020 के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा फिर से परिसीमन कर अधिसूचनाएं 1 दिसंबर 2019 को, 4 दिसंबर 2019 और 12 दिसंबर 2019 को जारी की गई, जिनमें 15 व 16 नवंबर 2019 को जारी की गई ।

अधिसूचनाओं से सृजित, पुनर्गठित ग्राम पंचायतें भी प्रभावित होगी। राज्य सरकार द्वारा जारी की गई सभी अभी सूचनाओं के पश्चात राज्य में कुल 33 जिला परिषद के अतिरिक्त 352 पंचायत समिति और 11341 ग्राम पंचायतें अस्तित्व में आई।

निर्वाचन आयोग के द्वारा कहा गया है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए आयोग द्वारा मतदान केंद्र में मतदाताओं की संख्या को 1100 के स्थान पर 900 रखा गया है और उसी के अनुसार मतदान केंद्र की संख्या बढ़ा दी गई है। साथ ही मतदान के समय में एक घंटा की वृद्धि करते हुए मतदान का समय प्रातः 7:30 बजे से सायकाल 5:30 बजे तक रखा गया है, जिससे मतदाता सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए मतदान कर सकें।

निर्वाचन आयोग ने बताया है कि इन 3848 ग्राम पंचायतों की 10 जून 2020 को अंतिम रूप से प्रकाशित निर्वाचन नामावली में कुल 12823785 मतदाता हैं। जिनमें से 6707732 पुरुष और 6115979 महिलाएं हैं। इसके अलावा 74 थर्ड जेंडर है।

कार्यक्रम के अनुसार नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत करने की तिथि और समय पहले चरण की 19 सितंबर, दूसरे चरण की 23 सितंबर, तीसरे चरण की 26 सितंबर और चौथे चरण की 30 सितंबर रखी गई है। इसी तरह से नाम निर्देशन पत्रों की समीक्षा की तिथि पहले चरण की 20 सितंबर, दूसरे चरण की 24 सितंबर, तीसरे चरण की 27 सितंबर और चौथे चरण की 1 अक्टूबर रखी गई है।

नाम वापसी की अंतिम तारीख पहले चरण की 1 सितंबर, दूसरे चरण की 24 सितंबर, तीसरे चरण की 27 सितंबर, चौथे की 1 अक्टूबर की गई है। चुनाव प्रतीकों का आवंटन एवं चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की सूची का प्रकाशन पहले चरण के 20 सितंबर, दूसरे चरण में 24 सितंबर, तीसरे चरण की 27 सितंबर, चौथे चरण की 1 अक्टूबर रखी गई है।

मतदान दलों का स्थान प्रस्थान का पहले चरण के लिए 27 सितंबर, दूसरे चरण के लिए 2 अक्टूबर, तीसरे चरण के लिए 5 अक्टूबर और चौथे चरण के लिए 9 अक्टूबर है। मतदान की तिथि पहले चरण के लिए 28 सितंबर को मतदान होगा। दूसरे चरण का मतदान 3 अक्टूबर को, तीसरे चरण का मतदान 6 अक्टूबर को और चौथे चरण का मतदान 10 अक्टूबर को होगा।

इसी तरह से पहले चरण की मतगणना 28 सितंबर को, दूसरे चरण की मतगणना 3 अक्टूबर को, तीसरे चरण की मतगणना 6 अक्टूबर को और चौथे चरण की मतगणना 10 अक्टूबर को होगी। उपसरपंच का चुनाव पहले चरण के लिए 29 सितंबर को, दूसरे चरण के लिए 4 अक्टूबर को, तीसरे चरण के लिए 7 अक्टूबर को और चौथे चरण के लिए 11 अक्टूबर को किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *