आयकर अधिकारियों के लिए 2 लाख की रिश्वत लेते चार्टेड अकाउंटेंट गिरफ्तार

जयपुर

जयपुर संभाग में एसीबी की बड़ी कार्रवाई

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने मंगलवार को जयपुर संभाग में ताबड़तोड़ तीन कार्रवाई की। एक कार्रवाई में आयकर अधिकारियों के लिए 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते एक सीए को रंगे हा​थों गिरफ्तार किया है।

एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि स्पेशल यूनिट द्वितीय को परिवादी ने शिकायत की थी कि उसकी फर्म के विरुद्ध आयकर विभाग में चल रही फाइल के निस्तारण के एवज में सीए पुनीत मेहनोत रजिस्ट्रेशन नम्बर 079480 जयपुर में पदस्थापित आयकर अधिकारियों के लिए 5 लाख की रिश्वत मांग कर परेशान कर रहा है।

उपमहानिरीक्षक पुलिस सवाई सिंह गोदारा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन कराया गया। शिकायत सही पाए जाने पर मंगलवार को ट्रेप का आयोजन किया गया और सीए पुनीत मेहनोत को आयकर अधिकारियों के लिए 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया। एसीबी की ओर से अब इस मामले में आयकर अधिकारियों की संलिप्तता की भी जांच कर रही है।

नर्सिंग काउंसिल का ​कनिष्ठ सहायक 1 लाख 90 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार
जयपुर में ही एक अन्य कार्रवाई में एसीबी ने राजस्थान सर्सिंग काउंसिल के कनिष्ठ सहायक नंद किशोर शर्मा और उसके दलाल बंशीलाल गुर्जर को 1 लाख 90 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एसीबी मुख्यालय को पत्र के जरिए सूचना मिली थी कि राजस्थान नर्सिंग काउंसिल के अधिकारी—कर्मचारी नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता, सीट आवंटन और निरीक्षण में शिथि​लता के नाम पर रिश्वत में मोटी रकम वसूल कर भ्रष्टाचार कर रहे हैं। ब्यूरो की तकनीकी शाखा की टीम ने इस सूचना को विकसित किया और काउंसिल पर सतत निगरानी रखी गई। इसके बाद ट्रेप की कार्रवाई आयोजित की गई।

तीसरी कार्रवाई में दौसा जिले की उप तहसील सिकंदरा के गिरदावर सतीश कुमार को परिवादी की भूमि का नामांतरण में हक त्याग की कार्रवाई करने के एवज में 7 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों​ गिरफ्तार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.