क्राइम न्यूज़जयपुर

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला: 50 किलो बारूद से उड़े जीप के परखच्चे…! नाराज पीएम मोदी बोले, ‘जवानों की शहादत याद रखी जाएगी..!’

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में बुधवार को नक्सलियों की ओर से किए गए आईईडी हमले में 10 डीआरजी जवानों और एक चालक की जान चली गई। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया, जिसमें सुरक्षाबल के 10 जवान और एक वाहन चालक शहीद हो गए। पीएम मोदी ने इस हमले की कड़ी निंदा की है।
प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि दंतेवाड़ा में छत्तीसगढ़ पुलिस पर हुए हमले की कड़ी निंदा करता हूं। हम हमले में शहीद हुए बहादुर जवानों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उनके बलिदान को हमेशा याद रखा जाएगा। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं।
राष्ट्रपति ने भी की निंदा
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी इस हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में पुलिस बलों पर हुए हमले की मैं निंदा करती हूं। देश की रक्षा में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले बहादुर जवानों के परिवारों और प्रियजनों के प्रति सभी देशवासियों की ओर से मैं शोक संवेदनाएं व्यक्त करती हूं।
आईईडी से किया हमला
छत्तीसगढ़ में डीआरजी के जवानों पर ये हमला तब किया गया जब वे एक अभियान पूरा करने के बाद वापस लौट रहे थे। बस्तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज ने बताया कि हमने एक सूचना पर अभियान चलाया था। अभियान पूरा करने के बाद टीम जब वापस लौट रही थी कि तभी वाहन आईईडी की चपेट में आ गया। वाहन में 10 जिला रिजर्व गार्ड जवान थे और एक वाहन चालक था। शहीद जवानों के शवों को वापस लाया जा रहा है। मौके पर वरिष्ठ अधिकारी मौजूद हैं।
अमित शाह ने सीएम से की बात
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल से बात करके शहीद जवानों की जानकारी ली और उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। वहीं, छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि नक्सलियों के छुपे होने की जानकारी आई थी, जिसके बाद डीआरजी के जवान वहां पहुंचे थे। वह ऑपरेशन कर लौट रहे थे कि तभी आईईडी की चपेट में उनका वाहन आया। घटना में 10 जवान और एक चालक शहीद हुए हैं। हमने और बल को भेज दिया है। पिछले 4 वर्षों में नक्सलियों का 60 फीसदी मूवमेंट कम हुआ है।
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में नक्सली हमले में 11 जवानों की शहादत पर शोक संवेदना व्यक्त की है। राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि शहीदों की आत्मा को शांति प्रदान करने एवं परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि कर्तव्य निभाते हुए सर्वोच्च बलिदान देने वाले सभी दिवंगतों के परिजनों के साथ हमारी सहानुभूति है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिवारजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति देने तथा घायल जवानों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

Related posts

एसओजी ने शेखावत को भेजा नोटिस

admin

मोदी सरकार बिना किसी से चर्चा किए जनता पर निर्णय थोपने का काम करती है : डोटासरा

admin

नए ज़िलों सहित सम्पूर्ण राज्य में प्रदूषण नियंत्रण के लिए प्रतिबद्धत्ता के साथ होगा कार्य: अध्यक्ष, राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल

Clearnews