मुख्यमंत्री गहलोत की अमित शाह को चुनौति, दम हो तो केंद्रीय गृह मंत्रालय की कमेटी बनाकर 7 राज्यों में हुए दंगों की जांच कराएं

जयपुर

जयपुर। जोधपुर हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को चुनौति दी है। गहलोत ने कहा कि विधानसभा चुनाव में हार के डर के चलते भाजपा प्रदेश में दंगे करवा रही है। अगर अमित शाह में दम हो तो वह केंद्रीय गृह मंत्रालय की कमेटी बनाकर 7 राज्यों में हुए दंगों की जांच कराएं। गहलोत का मानना है कि किस रूप में दंगे भड़काने की प्लानिंग थी, यह तमाम बातें सामने आ जाएंगी, आगे दंगे होने रुक जाएंगे।

गहलोत ने गुरुवार को उदयपुर में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश में दंगे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। करौली और जोधपुर में हुई हिंसा के लिए गहलोत ने भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि भाजपा दंगे और ध्रुवीकरण के सहारे चुनाव जीतना चाहती है। गहलोत ने सभी राजनीतिक दलों से शांति की अपील करते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दलों की जिम्मेदारी है कि वह शांति व्यवस्था कायम करने में सहयोग करें। गहलोत ने कहा कि राजस्थान को बख्शो, हम सब अपनी-अपनी विचारधारा के साथ में राजनीति करें, परंतु ये किसी को अधिकार नहीं है कि निर्दोष लोग मारे जाएं, आगजनी हो, दंगे भड़कें, ये हम बर्दाश्त नहीं करेंगे।

गहलोत में कहा कि भाजपा की योजना पूरे प्रदेश में दंगा करवाने की है। पहले इन्होंने करौली में दंगा करवाया और अब जोधपुर में दंगा करवाया। गहलोत ने कहा कि हमने पूरे प्रयास करके टाइम पर कार्रवाई की। इसलिए छुटपुट घटनाएं हुई, कई जगह आगजनी भी हुई है जो भी लोग हिंसा में आरोपी है। उन सब को अरेस्ट कर लिया गया है। हम किसी भी कीमत पर प्रदेश में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेंगे और जो बीजेपी षड्यंत्र रच रही है उनके षड्यंत्र को भी कामयाब नहीं होने देंगे।

गहलोत ने कहा कि यह बातें आज की युवा पीढ़ी को नहीं पता। इसीलिए भाजपा और आरएसएस के लोग इसका फायदा उठा रहे हैं और युवा पीढ़ी को बरगला रहे हैं। हिंसा में जो भी लोग दोषी हो चाहे वह किसी भी धर्म-मजहब या राजनीतिक पार्टी से जुड़े हों उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.