जयपुरनगर निगम

जयपुर में नगरीय विकास कर वाली सम्पतियां चिन्हित होंगी और इसके लिए ड्रोन व गूगल मैप की ली जाएगी मदद, आयुक्त स्वयं रात्रि में कभी भी सफाई का औचक निरीक्षण करेंगे

नगर निगम जयपुर हैरिटेज की व्यवस्थाओं में जल्दी ही सुधार होने की उम्मीद है। नगरीय विकास कर वाली सम्पतियां चिन्हित होंगी। इसके लिए ड्रोन व गूगल मैप की मदद ली जाएगी। इसके अलावा अधिकृत मैरिज गार्डन्स का सर्वे होगा और आयुक्त स्वयं रात्रि में कभी भी सफाई का औचक निरीक्षण करेंगे। इस आशय के संकेत नगर निगम जयपुर हैरिटेज के नवनियुक्त आयुक्त राजेंद्र सिंह शेखावत ने शनिवार, 20 मई को अपना कार्यग्रहण करने के साथ ही दे दिए हैं। उन्होंने शनिवार 20 मई को छुट्टी के दिन ही अधिकारियों की परिचयात्मक व समीक्षा बैठक ली।
शेखावत ने अधिकारियों को अपना विजन बताते हुए कहा कि निगम के कार्यों व सेवाओं को बेहत्तर बनाने के लिये राजस्व में बढ़ोतरी करनी होगी। इसके लिये उन्होंने उपायुक्त राजस्व सरोज ढाका को निर्देश दिये कि वे नगरीय विकास के दायरे में आने वाली ऐसी सभी सम्पतियां जिनमें बहुमंजिला व्यावसायिक गतिविधियां चल रही हैं को, चिन्हित करने के लिए ड्रोन, गूगल मैप व जरूरत समझे तो रोबोटिक्स की मदद से सर्वे करें व नगरीय विकास कर की वसूली में तेजी लाएं ।
उन्होंने ने सरोज ढाका को निर्देश दिये कि नगरीय विकास कर वसूली के लिए बड़ी सम्पतियों के धारकों को नोटिस दें। यही नहीं वे जहां जरूरत समझें वहां वे स्वंय भी कार्रवाई करने के लिए साथ जाएंगे। उन्होंने होर्डिंग्स व यूनिपोल के लिए नयी साईट चिन्हित करने व जहां एक्सीडेंट होने की संभावना रहती हैं वहां होर्डिग्स न लगाने व अनाधिकृत मैरिज गार्डन का सर्वे कर सूची बनाने व इनसे शुल्क वसूली के लिए आवश्यक प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
सफाई व्यवस्था को ओर बेहत्तर बनाने के लिए उठाये जा रहे कदमों के बारे में उन्होंने उपायुक्त स्वास्थ्य आशीष कुमार से फीड बैक लिया व निर्देश दिये कि रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था को और बेहतर बनाये, कचरा डिपो समय पर उठे इसके लिए मातहत अधिकारियों व कर्मचारियों को पाबन्द करें। उन्होंने उपायुक्त स्वास्थ्य को निर्देश दिये कि वे डिवाइडर सहित सड़को की बढ़िया तरीके से सफाई के लिए अत्याधुनिक मशीनों को खरीदने के प्रस्ताव अतिशीघ्र अनुमोदित करवायें ।
शेखावत ने तकाजा किया कि जिस ठेकेदार ने सफाई कार्य में धीमा कार्य किया हैं उसके विरुद्व कार्रवाई करें व साथ ही सफाई के मैकेनिज्म व मॉनिटरिगं को और बेहत्तर बनाने पर जोर दें। हैरिटेज निगम क्षेत्र के उधानों को ओर बेहतर, आकर्षक व आमजन हेतु ज्यादा उपयोगी बनाने के लिए उन्होंने उपायुक्त स्वास्थ्य आशीष कुमार को निर्देश दिये कि वे ऐसी व्यावसायिक संस्थानों, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, निजी संस्थाओं, स्वंयसेवी संस्थाओं, मंदिर या ट्रस्ट आदि जो सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत उद्यानों को गोद लेना चाहते हैं, उनसे वार्ता करें।
शेखावत ने बरसात के समय परकोटे में पानी से नालों व नालियों के ओवरफ्लो होने को अभी से गंभीरता से लेते हुए सफाई कार्य को चरणबद्ध ढंग से शुरू करने के निर्देश दिये। हैरिटेज निगम से संबंधित न्यायालयों में लंबित प्रकरणों में निगम की ओर से उपविधि परामर्शी की राय से सही तरीके से जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश उन्होंने सभी जोन उपायुक्तों को दिये व साथ ही यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि किसी भी प्रकरण में न्यायालय की अवमानना न हो।
प्रशासन शहरों के संग अभियान की समीक्षा करते हुए शेखावत ने नोडल अधिकारी उपायुक्त सुरेन्द्र सिंह यादव को निर्देश दिये कि पट्टा वितरण कार्य में तेजी लाये। अभी तक 6 हजार पट्टे दिये गये हैं व 20 हजार पट्टा वितरण का लक्ष्य है। शेखावत ने कहा कि जोन में आने वाले व्यक्ति के पट्टों के आवेदनों पर तेजी से कार्रवाई करने के लिए समाचार पत्रों में विज्ञप्तियों का प्रकाशन करवायें व जिनका पट्टा नहीं बन सकता है उन्हें कारण व नियम सहित स्पष्ट जवाब दें। साथ ही जिन प्रकरणों का निस्तारण निगम स्तर पर नहीं हो सकता। उनके प्रस्ताव बना कर निदेशालय स्वायत्त शासन या संबधित एजेन्सी को भेजे जायें। अतिरिक्त आयुक्त राजेन्द्र वर्मा ने पट्टों के बनाने में ढिलाई पर हस्तक्षेप करते हुए आयुक्त सिंह को अवगत करवाया कि बहुत से कर्मचारी इस कार्य का टालते रहते हैं जिससे लोगों में नाराजगी बढ़ती है इसलिये इन्हें बदला जाना उचित होगा।
शेखावत ने उपायुक्त लैण्ड बैंक निहारिका शर्मा को निर्देश दिये कि वे लैण्ड बैंक के लिए वे अतिरिक्त मुख्य नगर नियोजक शशिकान्त के सहयोग से 15 दिन में सम्पतियां चिन्हित कर लैण्ड बैक को समृद्व बनाये ताकि इन सम्पतियां की नीलामी से निगम के राजस्व मेें बढ़ोतरी हो सके। शेखावत ने अधिशाषी अभियंता विद्युत को हैरिटेज क्षेत्र में स्थित सभी राजकीय भवनों को सौलर लाईट के प्लांट से युक्त बनाने हेतु आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिये।
जयपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के कार्यों की भी समीक्षा
सिंह ने जयपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के कार्यों की भी अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की व निर्देश दिये कि जिन प्रोजेक्टस पर काम चल रहा है उनको पूर्ण करने में तेजी लायें, कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें व प्रोजेक्ट सरकार जिस मंशा, भावना और विजन के साथ बनाया गया है उस पर खरा उतरे ।
बैठक के दौरान उपायुक्त अनिता मित्तल, कार्मिक श्रीमति मनीषा यादव, उपायुक्त सुरेश राव, नरेश तंवर, मनीषा लेघा, अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता एसके वर्मा, वित्तीय सलाहकार कृष्ण कन्हैया मीणा, मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सोनिया अग्रवाल, वरिष्ठ लेखाधिकारी अनिल कुमार शर्मा, उपनिदेशक जनसंपर्क मोती लाल वर्मा, समस्त अधिशाषी अभियन्ता व सभी शाखाओं के अनुभाग अधिकारी मौजूद थे।
जलमहल इंदिरा रसोई का निरीक्षण कर खाना चखा
बैठक के तुरन्त पश्चात्त आयुक्त शेखावत उपायुक्त मुख्यालय एवं नोडल इंदिरा रसोई योजना अनिता मित्तल व राजस्व अधिकारी मुख्यालय सुरेश चौहान के साथ जल महल स्थित इंदिरा रसोई पहुंच निरीक्षण किया। रसोई में भोजन बनाने के बर्तन, चूल्हे, फर्नीचर व साफ सफाई और रसोई के दस्तावेजों का निरीक्षण किया व व्यवस्थाओं को संतोषजनक पाया। इसके बाद श्री शेखावत ने इंदिरा रसोई का खाना भी चखा व गुणवत्ता ठीक पाये जाने पर स्टॉफ की सराहना की।
तीन मंहगाई राहत कैम्पों में पहुॅंचे हैरिटेज निगम आयुक्त पट्टे बांटे व गारन्टी कार्ड बांटे
इंदिरा रसोई के निरीक्षण के पश्चात्त हैरिटैज निगम आयुक्त शेखावत उपायुक्त मुख्यालय व नोडल मंहगाई राहत शिविर अनिता गुप्ता व राजस्व अधिकारी मुख्यालय सुरेश चौहान के साथ मंसूरी जमात स्थित मंहगाई राहत शिविर स्थल पहुंचे व व्यवस्थाओं का जायजा लिया। शेखावत ने शिविर में आये लोगों से फीड बैक लिया व गारन्टी कार्ड बांटे व प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत पट्टे भी बांटे। मंसूरी जमात से आयुक्त शेखावत उपायुक्त अनिता मित्तल व राजस्व अधिकारी सुरेश चौहान के साथ राजभवन के पास स्थित पार्क में संचालित मंहगाई राहत शिविर का निरीक्षण किया। शिविर की व्यवस्था ठीक मिलने पर उन्होंने स्टॉफ की हौसला अफजाई की। इस दौरान उपायुक्त सिविल लाईन जोन नरेश तंवर भी उनके साथ रहे ।

Related posts

भाजपा की रविवार को सिविल लाइंस पर बड़े प्रदर्शन की तैयारी, मानवाधिकार आयोग के संज्ञान के बाद प्रशासन ले सकता है पुजारी की लाश कब्जे में

admin

Rajasthan: कैबिनेट की बैठक आज, ईआरसीपी सहित कई मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

Clearnews

जयसमन्द अभयारण्य में ‘जंगल सफारी’ के उद्घाटन पर बोले मुख्यमंत्री गहलोत, वन और पर्यावरण संरक्षण राज्य सरकार की प्राथमिकता

Clearnews