Corona ke baad Jaipur mai umde north and central India ke tourist

कोरोना (corona)के बाद जयपुर (Jaipur) में उमड़े उत्तर और मध्य भारत के पर्यटक (tourist)

कारोबार

राजधानी जयपुर (Jaipur) में कोरोना (corona) की दूसरी लहर के बाद रिकार्ड पयर्टक (tourist) आए हैं। जयपुर के साथ-साथ पूरे प्रदेश में इन दिनों पर्यटन पूरे शबाब पर है। पूरा उत्तर और मध्य भारत जयपुर में उमड़ा सा नजर आ रहा है। पर्यटकों की आवक बढऩे से पर्यटन स्थल गुलजार हैं। कहा जा रहा है कि शनिवार, इतवार के साथ सोमवार को जन्माष्टमी की छुट्टी पड़ने के कारण लोग बड़ी संख्या में पर्यटन के लिए निकल रहे हैं।

कहा जा रहा है कि इस बार भी कोरोना के कारण जन्माष्टमी को अधिकांश जगहों पर मंदिर नहीं खुलेंगे, ऐसे में युवा वर्ग तीन दिनों की छुट्टियों के सदुपयोग के लिए पर्यटन पर निकला हुआ है। शहर के प्रमुख पर्यटन स्थल आमेर में रविवार को रिकार्ड पर्यटकों की संख्या रही। आमेर में पर्यटन के लिए 7157 पर्यटक पहुंचे, जिससे पुरातत्व विभाग को 6 लाख 20 हजार रुपए से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ।

पुरातत्व विभाग के अनुसार जुलाई में 1.77 लाख पर्यटक जयपुर पहुंचे। अगस्त में 2.26 लाख से अधिक पर्यटक अभी जयपुर पहुंच चुके हैं। यह हाल तो तब है जब कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। विदेशी पर्यटकों की आवक पूरी तरह से बंद है। यदि कोरोना नहीं होता तो जयपुर में इस समय पर्यटकों की संख्या 20 हजार प्रतिदिन के पार होती। बारिश के बाद आमेर की हरी-भरी वादियां पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। हालांकि इस बार मावठे में पानी नहीं आया है, लेकिन महल के पीछे स्थित सागत तलाब में पानी की अच्छी आवक हुई है और वह पूरी तरह से भर गया है। सागत इस समय पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। पर्यटक यहाँ पहुंच कर फोटोशूट कर रहे हैं। परकोटे की प्राचीरों पर चढ़कर हरियाली का आनंद उठा रहे हैं।

पर्यटकों की बढ़ती आवक के बीच पर्यटन क्षेत्र के जानकार तीसरी लहर की भी आशंका जता रहे हैं। उनका कहना है कि इतनी संख्या में पर्यटकों का आना तीसरी लहर भी ला सकता है। अधिकांश पर्यटक कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं कर रहे हैं। न मुंह पर मास्क दिखाई दे रहा है और न ही सोश्यल डिस्टेंसिंग। कोरोना का सबसे ज्यादा प्रभाव इस समय दक्षिण भारत और महाराष्ट्र में दिखाई दे रहा है, लेकिन इन क्षेत्रों से भी पर्यटक राजस्थान पहुंच रहे हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *