vetolators to be installed in regional hospitals

कोरोना के लिए खनिज फाउंडेशन निधि से 605 करोड़ रुपए का प्रावधान

कोरोना जयपुर

जयपुर। खान एवं पेट्रोलियम मंत्री प्रमोद जैन भाया ने बताया है कि जिला खनिज फाउंडेशन निधि (डीएमएफटी) से कोविड-19 से बचाव के लिए जिलों में जीवन रक्षक उपकरणों, टेस्टिंग उपकरण, पीपीई किट, हॉस्पिटल बेड, वेंटिलेटर आदि के लिए 605 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

जिलों में जिला खनिज फाउण्डेशन निधि में उपलब्ध कुल राशि में से 30 प्रतिशत राशि कोविड-19 बचाव कार्यों के लिए व्यय जा सकेगी। भाया ने बताया कि डीएमएफटी फण्ड में उपलब्ध राशि विकास कार्यों के लिए उपलब्ध कराई जाती है।

कोविड-19 कोरोना महामारी को देखते हुए जिस जिले में जितनी राशि उपलब्ध है उसमें से 30 प्रतिशत राशि कोविड बचाव कार्यों व चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार और सुविधाओं के लिए उपयोग में लाने के लिए जिला कलक्टरों को अधिकृत किया गया है।

जिला कलक्टर प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में आयोजित डीएमएफटी की जिला स्तरीय गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग बुलाकर उपलब्ध राशि के अनुसार जिले की मांग व आवश्यकता को देखते हुए राशि स्वीकृत कर उपयोग में ले सकेंगे।

अतिरिक्त मुख्य सचिव खान व पेट्रोलियम डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि राज्य के विभिन्न जिलों में डीएमएफटी कोष में 2018 करोड़ 59 लाख रु पए उपलब्ध है। इस कोष से 30 प्रतिशत राशि 605 करोड़ 58 लाख रुपए कोविड से बचाव कार्यों के लिए व्यय किए जाने के विशेष प्रावधान किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि जिलों में उपलब्ध कोष के आधार पर जिला वार राशि तय की गई हैं। जिले में उपलब्ध राशि उसी जिले में उपयोग में ली जा सकती है, इसी को ध्यान में रखते हुए जिलावार लक्ष्य तय किए गए हैं। अग्रवाल ने बताया कि जिला कलक्टरों को निर्देशित किया गया है कि वे उपलब्ध राशि के अनुसार आवश्यकताओं का आंकलन कराएं और जिला स्तरीय गवर्निंग काउंसिल की बैठक बुलाकर प्रस्ताव पारित करवाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *