meeting on corona health protocol

कोरोना खत्म नहीं हुआ, हैल्थ प्रोटोकॉल का रखें ध्यान

कोरोना जयपुर स्वास्थ्य

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि कोरोना संक्रमण को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतें। जनता अनुशासन में रहकर सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने और बार-बार हाथ धोने समेत सभी हैल्थ प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना करें। कोरोना संक्रमण अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में सभीको संक्रमण से बचने के लिए एहतियात बरतना जरूरी है।

गहलोत मुख्यमंत्री निवास से संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि संक्रमण से बचने के लिए भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचना चाहिए। कोरोना को पहले की तरह ही गंभीरता से लिया जाए और इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाए।

गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में मंत्री, प्रभारी सचिव, कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों, उपखंड अधिकारियों, सीएमएचओ, पीआरओ को निर्देश दिए कि जिन जिलों में पॉजिटिव केस ज्यादा आ रहे हैं, वहां विशेष सतर्कता बरती जाए। ऐसे स्थानों पर आस-पास के लोगों की भी कोरोना जांच कराई जाए। ऐसे लोगों की रेण्डम टेस्टिंग हो जो सुपर स्प्रेडर माने जाते हैं।

गहलोत ने कहा कि राजस्थान कोरोना संक्रमण को काबू में रखने के मामले में मॉडल स्टेट बनकर उभरा है। कोरोना से मृत्यु और पॉजिटिव केस की दर कम रखने की दिशा में निरंतर प्रयास किए जाएं। जिला अस्पतालों के साथ उप जिला अस्पतालों में भी ऑक्सीजन बैड बढ़ाए जाएं।

सरकार 1 रुपए किलो में देगी गेहूं

गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत कवर होने वाले परिवारों को प्रति व्यक्ति पांच किलो गेहूं अतिरिक्त रूप से फ्री उपलब्ध कराया जा रहा है। बीपीएल, स्टेट बीपीएल और अंत्योदय श्रेणी के लोगों को केंद्र की ओर से प्रतिमाह 2 रुपए किलो की दर से मिलने वाले गेहूं जुलाई माह में एक रुपए की सब्सिडी अपनी ओर से देते हुए एक रुपए प्रति किलो के भाव से उपलब्ध कराया जाएगा।