क्रिकेटदिल्ली

पूर्व क्रिकेट कप्तान बिशन सिंह बेदी का लंबी बीमारी के बाद निधन, खेल जगत में शोक

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी (77 वर्षीय) का आज 23 अक्टूबर 2023 को लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया। कुछ समय पहले ही उनके घुटने की सर्जरी हुई थी और इसके बाद से ही उनका स्वास्थ्य लगातार बिगड़ता जा रहा था। उनके निधन से खेल जगत में शोक छा गया है। बीएस बेदी ने भारत के लिए कुल 77 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले और 273 विकेट झटके थे। बेदी को भारतीय टेस्ट इतिहास के बेहतरीन स्पिनरों में माना जाता है। बिशन सिंह बेदी के चार बच्चे है.. अंगद बेदी, इंदर बेदी, नेहा बेदी और गिलिंदर बेदी। अंगद बेदी और उनकी पत्नी नेहा धूपिया भारतीय फिल्म जगत में अभिनय के क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं।
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रहे बेदी को दुनिया के धाकड़ स्पिनरों में शामिल किया जाता है। जब उनके निधन की खबर आई तो कुछ ही देर में सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गई। सेलिब्रिटिजी से लेकर देश-विदेश के नामी-गिरामी क्रिकेटरों तक उनके निधन पर दुख जताया और और श्रद्धांजलि दी है।
भारतीय स्पिन चौकड़ी की मजबूत कड़ी थे बिशन सिंह बेदी
बाएं हाथ के इस महान लेग स्पिनर ने 1967 और 1979 के बीच भारत के लिए 67 टेस्ट खेले और 266 विकेट हासिल किये। उन्होंने 10 एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 7 विकेट भी लिये। उन्होंने पारी में 14 बार पांच विकेट और मैच में एक बार 10 विकेट चटकाने का कारनामा किया। वे भारतीय क्रिकेट के स्पिनरों की उस स्वर्णिम चौकड़ी का हिस्सा थे जिसमें उनके अलावा इरापल्ली प्रसन्ना, भागवत चंद्रशेखर और श्रीनिवास वेंकटराघवन शामिल थे।
उन्होंने भारत की पहली वनडे जीत में अहम भूमिका निभाई थी। पंजाब राज्य मे अमृतसर में जन्मे स्पिनर बेदी ने घरेलू सर्किट पर दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया। वे 1966 और 1978 के बीच एक दशक से अधिक समय तक भारत की गेंदबाजी इकाई का प्रमुख हिस्सा रहे। बेदी 1990 में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड दौरे में कुछ समय के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजर थे। वे राष्ट्रीय चयनकर्ता होने के साथ मनिंदर सिंह और मुरली कार्तिक जैसे कई प्रतिभाशाली स्पिनरों के गुरु भी थे। उन्होंने घरेलू क्रिकेट में 370 मैचों में 1,560 विकेट प्राप्त किये।
ऐसा रहा महान बिशन सिंह बेदी का करियर
बिशन सिंह बेदी ने 31 दिसंबर 1966 को कोलकाता के ऐतिहासिक स्टेडियम ईडन गार्डंस में टेस्ट करियर का आगाज किया था, जबकि अगस्त-सितंबर 1979 में द ओवल में इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट खेला था। दूसरी ओर, पहला वनडे इंग्लैंड के खिलाफ 13 जुलाई 1974 को को लॉर्ड्स खेला था, जबकि आखिरी वनडे 16 जून को 1979 को श्रीलंका के खिलाफ मैनचेस्टर में खेला था।

Related posts

वंदे भारत ट्रेन में ऐसा होगा स्लीपर कोच… रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शेयर की तस्वीरें

Clearnews

किसान आंदोलन 2.O: किसानों ने पटरियों पर बैठकर पंजाब में ट्रेनों को रोका, आज भारत बंद (ग्रामीण) का ऐलान

Clearnews

साउथ अफ्रीका दौरे के लिए टीम इंडिया का एलान… रोहित शर्मा को टेस्ट की कमान, सूर्या और राहुल को भी बड़ी जिम्मेदारी

Clearnews