jaswant singh cremation

दिग्गज नेता जसवंत सिंह जसोल की देह पंचतत्व में विलीन

जोधपुर

पुत्र मानवेंद्र सिंह ने दी मुखाग्नि

जोधपुर । रक्षा, विदेश और वित्त विभाग के मंत्री रहे जसवंत सिंह जसोल की पार्थिव देह रविवार को पंचतत्व में विलीन हो गई। जोधपुर हवाई अड्डे पर औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उनकी देह को उनके फार्स हाउस पर लाया गया। यहीं से उनकी शव यात्रा निकली और उनके पुत्रों ने उन्हें कांधा दिया। उनके पुत्र मानवेंद्र सिंह ने उन्हें मुखाग्नि दी।

मोदी ने मानवेंद्र को फोन पर संवेदना व्यक्त की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जसवंत सिंह के पुत्र मानवेंद्र से फोन पर बात की और अपनी संवेदनाएं प्रकट कीं। मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘जसवंत सिंह जी ने पहले एक सैनिक के रूप में देश की सेवा की, फिर राजनीति के साथ लंबे वक्त तक जुड़े रहकर देश देवा की। अटली की सरकार में, उन्होंने महत्चतपूर्ण विभाग संभाले और वित्त़, रक्षा तथा विदेश मामलों के क्षेत्र में अपनी छाप छोड़ी। मैं उनके निधन से दुखी हूं।

अनेक नेताओं ने दी पुष्पांजलि

पाकिस्तान सीमा से लगे बाड़मेर जिले के जसोल गांव के रहने वाले जसवंत सिंह को पुष्पांजलि अर्पित करने मंत्री सालेह मोहम्मद, विधायक महेंद्र विश्नोई, भाजपा जिलाध्यक्ष देवेंद्र जोशी सहित अनेक नेता उनके फार्म हाउस पहुंचे। सभी ने कोरोना महामारी से बचाव के लिहाज से अपने चेहरे पर मास्क लगाया हुआ था।

नेताओं ने किया शोक व्यक्त

स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बेहद करीबी रहे जसवंत के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी के अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राजस्थान के राज्यपाल राज्यपाल कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ समेत प्रदेश के कई नेताओं ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *