Election in UP, politics of caste and religion intensifies in Rajasthan

चुनाव यूपी (Elections in UP) में, जाति-धर्म (caste and religion) की सियासत राजस्थान (Rajasthan) में तेज

जयपुर

जयपुर। भिवाड़ी में एक बेकरी पर हुई फायरिंग की घटना के बाद राजस्थान (Rajasthan) में कानून व्यवस्था को लेकर बुधवार को अलवर से भाजपा सांसद बाबा बालकनाथ ने कांग्रेस सरकार की तुलना तालिबान (Taliban) से कर दी। इसके बाद भाजपा विधायक भी तुष्टीकरण को लेकर विधानसभा में सरकार पर मुखर हो गए। पलटवार करते हुए कांग्रेस ने भाजपा पर जात-पात के आधार पर राजनीति करने के आरोप लगाए। साथ ही कहा है कि भाजपा नेता मानसिक दिवालिए हो गए हैं।

भाजपा के अलवर सांसद बाबा बालकनाथ ने कहा है कि जब से प्रदेश में गहलोत सरकार बनी है, तब से प्रदेश में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ने लगा है। तालिबान जैसे हालात बन रहे हैं। अलवर अपराध का गढ़ बन गया है। भिवाड़ी, नीमराणा, बहरोड़, बानसूर में ताबड़तोड़ ऐसी आपराधिक घटनाएं हो रही है। भिवाड़ी में बेखौफ बदमाशों ने सरेआम एक बेकरी पर 30 राउंड फायरिंग की, तब बेकरी में 70 लोग मौजूद थे। इन्होंने यहां वहां छिपकर अपनी जानें बचाई।

अलवर जिले में लगातार गैंगरेप, लूट, फायरिंग और ठगी की घटनाएं होती जा रही हैं। परेशान होकर लोग अपने घर छोड़कर पलायन करने लगे हैं। आरोप है कि पुलिस और स्थानीय कांग्रेस नेता बदमाशों को संरक्षण देने का काम कर रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री के पास गृह विभाग होने के कारण नैतिक रूप से मुख्यमंत्री को अपने पद से इस्तीफा देने की मांग भी रखी है।

दिलावार ने स्थगन प्रस्ताव के जरिए उठाया मेवात का मामला
भाजपा विधायक मदन दिलावर ने बुधवार को विधानसभा में स्थगन प्रस्ताव के जरिए मेवात क्षेत्र का मामला उठाया और कहा कि जो बृज क्षेत्र आज नरक क्षेत्र बन गया है। दलितों की जमीनों पर कब्जे हो रहे हैं, मंदिरों को ध्वस्त करके मस्जिदें बनाई जा रही है। मेवात क्षेत्र आंतकवादियों का अड्डा बन गया है। इस क्षेत्र से एनआईए ने भी आंतकियों को पकड़ा है। पांच साल पहले भी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े आतंकी को पकड़ा था।

लव जिहाद के मामले में 18 लोगों के खिलाफ एफआईआर हुई है। स्कूलों में जबरदस्ती धार्मिक शिक्षा दी जाती है। इस इलाके में आतंकी हाफिज सईद ने मस्जिद का निर्माण करा डाला। 1989 में बृज क्षेत्र में मेवात विकास बोर्ड बनाया, जिससे यह क्षेत्र मिनी पाकिस्तान बन गया है।

मेवात क्षेत्र में हिंदू लड़कियों के साथ समुदाय विशेष के लोग गैंगरेप कर रहे हैं। यहां गैंगरेप की घटनाएं बढ़ रही हैं। जबरन धर्म परिवर्तन की घटनाएं सामने आई हैं। धर्म परिवर्तन के एक मामले में स्थानीय विधायक की सिफारिश पर दोषी बचा लिए गए। पीडि़त ने हरियाणा में जाकर गुहार लगाई, अब अब इस घटना की जांच एनआईए कर रही है।

दिलावर की धार्मिक टिप्पणियों पर शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कड़ी आपत्ति करते हुए कहा कि हिंदू-मुस्लिम करने के लिए यहां आते हैं क्या? इस तरह की टिप्पणियां गलत है। सत्ता पक्ष के कई विधायकों और मंत्रियों ने भी दिलावर की टिप्पणियों पर कड़ी आपत्ति जताई। इस बीच बीजेपी और कांग्रेस विधायकों में जमकर नोकझोंक हुई।

लाहोटी बोले सरकार और तालिबान राज में फर्क नहीं
सांसद के बाद भाजपा विधायक अशोक लाहोटी ने कहा कि राजस्थान में कानून का राज नहीं है। जब से यह सरकार राजस्थान में आई है, तब से ऐसा लग रहा है कि तालिबान का राज आ गया हो। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार और तालिबान के राज में कोई फर्क नहीं है। यहां न महिलाएं सुरक्षित हैं न दलित। अब तो कांग्रेस के विधायक भी कह रहे हैं कि सरकार हमें फंसाने का काम कर रही है।

तालिबान की तरह राजस्थान में भी नहीं कानून-व्यवस्था
भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी ने आरोप लगाया कि राजस्थान सरकार के कदम तालिबान की ओर बढ़ते हुए लगते हैं। जिस तरह तालिबान किसी कानून को नहीं मानता है। राजस्थान में भी ऐसा लगता है कि कानून और प्रशासन नाम की कोई चीज नहीं है। इस समय सरकार में हर एक बॉडी स्वतंत्र है। जो चाहे वह अपराध कर रहा है, अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं।

देवनानी ने आरोप लगाया कि राजस्थान में तुष्टीकरण की नीति अपनाई जा रही है। विधायक प्रताप सिंह सिंघवी ने छबड़ा का मामला उठाया है। टोंक के मालपुरा में हालात और भी विकट हैं। वहां पर हिन्दू परिवारों का पलायन शुरू हो गया है, यह भी राज पर एक तरह का धब्बा है। इस तरह की सरकार को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है।

रफीक खान बोले सरकार ने जाति-धर्म से ऊपर उठकर काम किया
कांग्रेस विधायक रफीक खान गहलोत सरकार के बचाव में उतरे।और कहा कि भाजपा नेताओं का मानसिक दिवालियापन इस बयान से नजर आ रहा है। जनता सब समझ रही है। ऐसे समय में जब कोविड से पूरा देश गुजर रहा है, उस वक्त किसी राज्य ने अच्छा काम किया है, तो वह राजस्थान है। जिसने जाति-धर्म से ऊपर उठकर काम किया। भाजपा को तो इसके लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद देना चाहिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *