क्राइम न्यूज़हनुमानगढ़

अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के पास विस्फोट में कई घायल, पुलिस का आतंकी हमले से इनकार, वीडियो..

हनुमानगढ़ के डबली राठान कस्बे से शुक्रवार दोपहर अगवा की गई नाबालिग बालिका को पुलिस ने अजमेर से सकुशल बरामद कर लिया। पुलिस ने अपहरण के मुख्य आरोपी सलमान उर्फ मानी और उसके दो साथियों मोहम्मद रफी तथा अमन खान को गिरफ्तार किया और घटना में प्रयुक्त स्विफ्ट डिजायर कार, 1 लाख 29 हजार 370 रुपये, दो मोबाइल इत्यादि बरामद किए।
एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि शुक्रवार 5 मई की दोपहर करीब 02 बजे डबली राठान कस्बे से एक नाबालिग बालिका को आरोपी सलमान उर्फ मानी अगवा कर डिजायर कार से ले गया। इसका थाना सदर हनुमानगढ़ में मुकदमा दर्ज कर तलाश आरंभ की गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जस्सा राम बोस के निर्देशन में 12 टीमों का गठन कर अलग-अलग क्षेत्रों में टीमों को रवाना किया गया। थाना रावतसर के कांस्टेबल अमरसिंह द्वारा दी गई महत्वपूर्ण लीड और थाना पल्लू व जामसर जिला बीकानेर से मिले इनपुट पर जयपुर, अजमेर, जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर, नागौर, पाली आदि जिलों की पुलिस से समन्वय स्थापित कर तलाश करवाई गई।
तलाश के दौरान शनिवार की सुबह करीब 4 बजे अजमेर में ऑटोचालक जाकिर हुसैन निवासी लौहाखान द्वारा दी गई सूचना के आधार पर पुलिस ने आरोपी सलमान उर्फ मानी को पकड़ अपहृत बालिका को दस्तयाब किया। बच्ची की दस्तयाबी में ऑटो चालक जाकिर हुसैन के महत्वपूर्ण योगदान के लिए एसपी चुनाराम जाट द्वारा सम्मानित किया गया। एसएचओ सदर लखवीर सिंह द्वारा अपहृत बालिका को अनुसंधान के बाद बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया। जहां से बालिका परिजनों के सुपुर्द की गई। मामले में मुख्य मुलजिम सलमान उर्फ मानी पुत्र सजवार खां (23) निवासी वार्ड नम्बर 01 डबली बास मौलवी को आईपीसी की सम्बंधित धाराओं, पोक्सो एक्ट एवं जेजे एक्ट में गिरफ्तार किया गया।
उन्होंने बताया कि घटना में प्रयुक्त डिजायर कार आरजे 31 सीसी 3886 और मुलजिम सलमान उर्फ मानी की तलाशी में मिले नगद 1,29,370 हजार रूप्ये, दो मोबाईल, आईडी, पहनने के कपडे तथा बीकानेर से अजमेर जाने के लिए स्लीपर बस का टिकट जब्त किये गये। शनिवार देर रात बालिका के अपहरण में मुख्य मुलजिम सलमान उर्फ मानी के सहयोगी मोहम्मद रफी पुत्र मोहम्मदीन जोईया (27) निवासी वार्ड नम्बर 01 तथा अमन खान पुत्र सरदार खां (21) निवासी वार्ड नम्बर 19 डबली बास मौलवी को गिरफतार किया गया। गिरफ्तार मुलजिमों को समग्र अनुसंधान के लिये कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमाण्ड हासिल किया जा रहा है।

Related posts

पाकिस्तानी यूनिवर्सिटी में छात्राओं के 5500 अश्लील वीडियो वायरल

Clearnews

जिस जेल में छापा मारते थे, उसी में कैदी बनकर पहुंचे आईएएस छवि रंजन

Clearnews

पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर आउट होने से बचा, गिरोह का मास्टरमाइंड हिरासत में

admin