If the infection is not controlled, the Rajasthan government will take strong steps, the Medical Minister appealed to the common man, 'Jaan hai to jahan hai, protect yourself at this time, so that the wedding ceremony and celebrations can be celebrated in the future'.

संक्रमण काबू में नहीं आया तो राजस्थान सरकार उठाएगी कड़े कदम, चिकित्सा मंत्री ने की आमजन से अपील,’जान है तो जहान है, इस समय खुद को सुरक्षित रखें, ताकि भविष्य में मनाए जा सकें शादी-समारोह और उत्सव’

जयपुर

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने आमजन से अपील करते हुए कहा है कि बढ़ते कोरोना संक्रमण से स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए अनुशासन का परिचय दें। बेवजह घर से बाहर ना निकलें। मास्क लगाएं और दो गज की दूरी का पालन करें। उन्होंने कहा कि ‘जान है तो जहान है’। इस समय खुद को सुरक्षित रखें ताकि भविष्य में शादी-समारोह, उत्सव आदि खुशी से मनाए जा सकें।

शर्मा ने कहा कि सरकार कोरोना के संक्रमण की बढ़ती चेन को रोकने और आमजन को बचाने के लिए अगले 15 दिन कड़े कदम उठाने से भी नहीं चूकेगी। प्रदेश में 3 मई तक जनअनुशासन पखवाड़ा चल रहा है। सरकार प्रतिदिन इसकी समीक्षा भी कर रही है। गृह विभाग द्वारा जारी प्रोटोकॉल की पूर्ण पालना से ही कोरोना से बचाव संभव है।

नो मास्क नो मूवमेंट
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क वैक्सीन के बराबर कारगर है। प्रदेश सरकार के ‘नो मास्क-नो मूवमेंट’ का सभी को अनिवार्य रूप से हिस्सा बनने की जरुरत है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाइडलाइन के अनुसार तो हमें घर भी मास्क का उपयोग करना चाहिए। इसलिए मास्क को वर्तमान में जीवनशैली का हिस्सा बनाएं।

स्वास्थ्य ढांचे को लगातार किया जा रहा है मजबूत
कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए प्रदेशभर में चिकित्सकीय सुविधाओं को तेजी से मजबूत किया गया है। आक्सीजन सप्लाई से लेकर रेमडेसिविर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हम निरंतर केन्द्र सरकार के संपर्क में है। और अपने स्तर पर भी इनका इंतजाम किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त सरकारी कोविड केयर सेंटरों और निजी अस्पतालों में बैड्स की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है, जिससे कि प्रत्येक जरुरतमंद को इलाज उपलब्ध कराया जा सके।

राज्य स्तरीय हैल्पलाइन का उपयोग करें
डॉ शर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमितों को अफवाहों पर ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है। कोरोना संक्रमितों की सहायतार्थ राज्य स्तरीय हैल्पलाइन 181 उपलब्ध है। जहां से दवाओं की सप्लाई, डायग्नोस्टिक फैसिलिटी, हॉस्पिटल, बैड की उपलब्धता, आईसीयू, वेंटीलेटर व आक्सीजन आदि के सबंध में सटीक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

टेली कंसल्टेंसी सुविधाओं का लाभ लें
कोरोना संक्रमण के फैलाव के चलते हमें कम से कम घर से बाहर निकलना चाहिए। यदि आपको अन्य कोई स्वास्थ्य सबंधी परेशानी है तो आप टेली कंसलटेंसी के जरिए चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त कर सकते है। आमजन ई-मित्र के माध्यम से सुबह 8 से 2 बजे तक पंजीकरण कराकर इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *