जयपुर ग्रेटर से कर्णावट और हैरिटेज से फारुकी बने उप महापौर

जयपुर राजनीति

जयपुर। प्रदेश के तीन बड़े शहरों की छह नगर निगमों में महापौर चुनाव के बाद बुधवार को उप महापौर पद के लिए भी चुनाव संपन्न हो गए हैं। जयपुर ग्रेटर से भाजपा के पुनीत कर्णावट उपमहापौर बने तो हैरिटेज से कांग्रेस के असलम फारुकी को यह पद मिला।

निर्विरोध चुने गए कर्नावट

पद के नामांकन के लिए सुबह 11 बजे तक का समय निर्धारित था। जयपुर ग्रेटर में इस समय तक भाजपा के पुनीत कर्णावट का नामांकन दाखिल हुआ। तय समय तक कांग्रेस की ओर से कोई नामांकन दाखिल नहीं किया गया। ऐसे में कर्णावट को निर्विरोध उपमहापौर निर्वाचित घोषित किया गया। निर्वाचन की घोषणा के बाद कर्णावट ने पदभार ग्रहण किया।

फारुकी चुने गए तो पार्टी के सहयोगी पार्षद नाराज

निगम हैरिटेज में कांग्रेस की ओर से असलम फारुकी को प्रत्याशी बनाया गया। फारुकी मुख्य सचेतक महेश जोशी के करीबी बताए जाते हैं। फारुकी की घोषणा से परकोटे से चार बार के पार्षद उमर दराज नाराज हो गए। उमर दराज के अलावा आयशा सिद्दिकी भी वरिष्ठ पार्षद हैं। हालांकि बाद में पार्टी नेताओं ने नाराज वरिष्ठ पार्षदों को मना लिया ।भाजपा की ओर से महेंद्र ढलेत को प्रत्याशी बनाया गया। ढलेत एससी-एसटी वर्ग से आते हैं। ढलेत को नामांकन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। हैरिटेज में उप महापौर पद के लिए वोटिंग कराई गई, जिसमें फारुकी को 56 और ढलेत को 44 वोट मिले और फारुकी को उपमहापौर घोषित किया गया।

जोधपुर उत्तर नगर निगम से जोशी उप महापौर

उत्तर नगर निगम से भाजपा ने सुरेश जोशी को और कांग्रेस ने अब्दुल करीम जॉनी को प्रत्याशी बनाया, लेकिन जोशी के नामांकन में एक प्रस्तावक के हस्ताक्षर नहीं होने के चलते उनका नामांकन खारिज कर दिया गया। नामांकन खारिज होने के कारण जॉनी निर्विरोध उपमहापौर निर्वाचित हुए।

जोधपुर नगर निगम दक्षिण से लड्ढा उपमहापौर बने

जोधपुर नगर निगम दक्षिण में भाजपा की ओर से किशन लाल लड्ढा को प्रत्याशी बनाया गया, वहीं कांग्रेस की ओर से गणपत सिंह चौहान को प्रत्याशी बनाया गया। वोटिंग में लड्ढा को 48 मत और चौहान को 32 मत मिले और लड्ढा को उपमहापौर घोषित किया गया।

कोटा उत्तर नगर निगम से कुरैशी चुने गए

उत्तर नगर निगम में कांग्रेस की ओर से फरीदुद्दीन उर्फ सोनू कुरैशी को और भाजपा की ओर से ज्ञानेंद्र सिंह प्रत्याशी बनाया गया। वोटिंग में कुरैशी को 52 वोट मिले और सिंह को मात्र 8 वोट मिले। ऐसे में कुरैशी को उपमहापौर घोषित किया गया।

कोटा दक्षिण से उपमहापौर पद कांग्रेस को लाटरी से मिला

दक्षिण नगर निगम में कांग्रेस की ओर से पवन मीणा और भाजपा की ओर से योगेंद्र खींची को प्रत्याशी बनाया गया। यहां मुकाबला बराबरी का रहा और दोनों प्रत्याशियों को 40-40 वोट मिले। ऐसे में उपमहापौर पद का फैसला लॉटरी से किया गया और कांग्रेस के पवन मीणा उपमहापौर बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *