क्राइमजयपुर

जयपुर में दुपहिया वाहनों की टक्कर से विवाद बढ़ा, युवक की पीट-पीटकर हत्या..कर्फ्यू के हालात..!

राजस्थान की राजधानी जयपुर के परकोटा में सुभाषचौक इलाके में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दिये जाने की खबर है। हत्या की वजह दो दुपहिया वाहनों की टक्कर के बाद उपजा विवाद बतायी जा रही है। जब दो बाइस आपस में टकरा गयीं तो एक युवक की सरेआम ठुकाई कर दी गयी कि उसे सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। युवक की मौत के बाद अस्पताल में लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गयी है जिसके बाद जमकर हंगामा मचाया गया।
प्राप्त सूचना के मुताबिक शुक्रवार रात करीब 11 राहुल जी का बाजार में दो मोटरसाइकिलों में टक्कर हो गई थी। इससे बाइक सावार दो युवकों के बीच तकरार शुरू हो गयी जो आसपास के लोगों के संभालने से भी नहीं संभली। हालांकि उपस्थित जनसूह ने दोनों युवकों को लड़ने से रोका लेकिन एक युवक ने इस दौरान अपने साथियों को बुला लिया और दूसरे युवक की पिटाई शुरू कर दी।
इस मारपीट से दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया और मौके पर पहुंची सुभाष चौक पुलिस ने घायल युवक को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। मृतक इकबाल रामगंज बाजार क्षेत्र का रहने वाला था। इकबाल की हत्या के बाद परकोटे में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर समुदाय विशेष के लोग भारी हंगामा करने लगे।
जयपुर परकोटे में हालात बेकाबू होते देखकर पुलिस का भारी जाब्ता तैनात कर दिया गया है।ह हंगामा बढ़ता देखकर बाजार के अनेक व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दीं हैं। जयपुर की डीसीपी नॉर्थ राशि डोगरा का कहना है कि हमला करने वाले तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है और शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए वरिष्ठ नागरिकों के साथ बैठक की गई है। उन्होंने कहा कि फिलहाल माहौल थोड़ा तनावपूर्ण है लेकिन स्थिति नियंत्रण में हैं।
डीजीपी उमेश मिश्रा ने बताया एहतियातन जाब्ता तैनात
उल्लेखनीय है कि राजस्थान के डीजीपी उमेश मिश्रा ने दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि लगभग एक दर्जन संदिग्ध को हिरासत में ले लिया गया है। फिलहाल जयपुर के सुभाष चौक और रामगंज में स्थिति नियंत्रण में है। पर्याप्त मात्रा में एसटीएफ सहित जाप्ता तैनात है। पुलिस कमिश्नर सहित वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं। ड्रोन के जरिए स्थिति पर नजर रखा जा रहा है। डीजीपी ने कहा है घटना में शामिल लोगों के विरूद्ध नियमानुसार सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने लोगों से शान्ति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।
मांगा 50 लाख रुपये का मुआवजा
इस पूरे मामले को लेकर जयपुर के विधायक अमीन कागजी और रफीक खान ने सीएम अशोक गहलोत से मुलाकात की और सरकार की ओर से मृतक के परिजन को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद दिलाने की घोषणा की। इसके अलावा संविदा पर नौकरी और डेयरी बूथ की भी घोषणा की गई। आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

Related posts

संरक्षित स्मारक में सीमेंट-सरिये की छत

admin

देश में पहली बार राजस्थान विधान सभा में होगा बाल सत्र

admin

देश-विदेश के प्रतिष्ठित संस्थानों में भी ले सकेंगे प्रशिक्षण राजस्थान के 500 शिक्षक..!

Clearnews