rajeeva swoop

जमीनी स्तर पर काम के लिए संभागीय आयुक्तों को जाना होगा फील्ड में

जयपुर

जयपुर। प्रदेश में गुड गवर्नेंस के लिए नई पहल की जा रही है। जमीन स्तर पर काम करने के लिए और सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की प्रभावी मॉनिटरिंग के लिए अब संभागीय आयुक्त व प्रशासनिक विभागों के सचिव फील्ड में जाकर योजनाओं की क्रियान्विति की मॉनिटरिंग करेंगे। राज्य सरकार द्वारा गुड गवर्नेंस को बढ़ावा देने के लिए इस संबंध में आदेश जारी किए गए हैं।

इसके तहत अधिकारी राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के जमीनी स्तर पर संचालन की समीक्षा करने के साथ जिलों में आमजन की समस्याओं के निराकरण को भी सुनिश्चिक करेंगे, फीडबैक लेंगे, ताकि इन्हें और भी प्रभावी तरीके से लागू किया जा सके।

मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने बताया कि संभागीय आयुक्त अब अपने संभाग के जिलों में सभी सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों की निगरानी के लिए जिम्मेदार होंगे। हर महीने कम से कम दो दिनों के लिए संभाग के प्रत्येक जिले का दौरा करेंगे।

जिलाधिकारियों के साथ बैठक कर सभी प्रमुख योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करेंगे साथ ही कोविड के संबंध में मेडिकल सहित सभी गतिविधियों की समीक्षा करेंगे। जिलाधिकारियों के साथ त्रैमासिक बैठकें करेंगे और जरूरत होने पर मार्गदर्शन प्रदान करेंगे।

कानून व्यवस्था और संबंधित मुद्दों के लिए पुलिस महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षक के साथ बैठकें करेंगे। वहीं दूसरी ओर जमीनी स्तर पर विभागीय मुद्दों को सुलझाने के लिए प्रशासनिक विभागों के अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख शासन सचिव और सचिव सभी संभागों के जिलों को चरणबद्ध तरीके से कवर करते हुए हर महीने कम से कम एक जिले का दौरा करेंगे।

विभागीय अधिकारियों के साथ विभाग की योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करेंगे। विभागीय कार्यों की फील्ड विजिट के साथ जिले के जनप्रतिनिधियों से भी फीडबैक लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *