क्राइम न्यूज़लखनऊ

लेडी सिंघम नाम से मशहूर तेजतर्रार पुलिस ऑफिसर खुद हो गयीं धोखाधड़ी की शिकार..!

बदमाशों और मनचले जिनके नाम से कांपते थे,उस महिला पुलिस अधिकारी ने जब स्वयं की आपबीती सुनाई तो मामला तुरंत सुर्ख़ियों में आ गया। उत्तर प्रदेश के शामली में तैनात DSP श्रेष्ठा ठाकुर की जिसे किसी और ने नहीं बल्कि पति ने ही धोखा दे दिया। जिस इंसान को आईआरएस अफसर समझकर उन्होंने उससे शादी की थी वह असल में कुछ और ही निकला। 2008 बैच की तेजतर्रार आईपीएस अफसर श्रेष्‍ठा ठाकुर ने अपने पूर्व पति रोहित राज के खिलाफ गाजियाबाद के कौशांबी थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। श्रेष्‍ठा ने अपनी शिकायत में कहा है कि रोहित राज ने खुद को आईआरएस अफसर बताया था। उसने अपनी तैनाती रांची में डिप्‍टी कमिश्‍नर पद पर बताई थी।
अपनी चतुराई के लिए मशहूर 2008 बैच की आईपीएस अधिकारी श्रेष्ठा ठाकुर ने रोहित राज नाम के एक व्यक्ति से शादी की, जिनसे उनकी मुलाकात 2018 में एक वैवाहिक साइट पर हुई थी।
शातिर था पूर्व पति रोहित राज
हालांकि शादी से पहले श्रेष्‍ठा के परिजनों ने रोहित राज के बारे में जानकारी जुटाई थी, उस समय इसी नाम का एक आईआरएस अफसर रांची में डिप्‍टी कमिश्‍नर पद पर तैनात था, जिस कारण किसी को उन पर शक नहीं हुआ।शादी के बाद श्रेष्‍ठा ठाकुर को पति की सच्चाई पता चली, तो पैरों तले जमीन खिसक गई। इसके बाद वह दोनों अलग हो गए।
तलाक के बाद भी बीवी के नाम से ठगी
हालांकि इसके बाद भी रोहित अपनी पूर्व पत्नी के नाम से धोखा करता रहा। आरोप है कि रोहित राज द्वारा ठगी की शिकायत लगातार लोगों से मिलती रही, इससे परेशान होकर अब श्रेष्‍ठा ठाकुर ने रोहित राज के खिलाफ कौशांबी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। अब यह मामला चर्चाओं में बना हुआ है।
रिश्‍ता बचाने के लिए चुप रहीं थीं श्रेष्ठा पर…
एफआईआर में बताया गया है कि शादी के कुछ समय बाद ही श्रेष्‍ठा को अपने साथ हुए धोखे का पता चल गया था, लेकिन रिश्‍ता बचाए रखने के लिए वह चुप रहीं।लेकिन जब लखनऊ में प्‍लॉट खरीदने के लिए रोहित ने उनके बैंक अकाउंट से फर्जी तरीके से साइन कर 15 लाख रुपये निकाल लिए,तब परेशान होकर उन्‍होंने तलाक की अर्जी दी। तलाक मिलने तक दो साल का समय निकाल चुका था ।
तलाक के बाद भी आरोपी रोहित श्रेष्‍ठा के नाम पर लोगों से ठगी की वारदात को अंजाम देता रहा। श्रेष्‍ठा ठाकुर ने पूर्व पति रोहित राज सिंह, ससुर वकील शरण सिंह और रोहित के भाई संजीत सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।रोहित मूलरूप से बिहार के नवादा जिले का रहने वाला है।पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है।

Related posts

जयपुर में टूरिस्ट बनकर गांजे की तस्करी: गर्लफ्रेंड को साथ लेकर देने आया सप्लाई, तलाशी में मिला 1 लाख का गांजा

Clearnews

कर्ज में डूबे व्यक्ति ने पत्नी और 2 बच्चों की गला रेतकर हत्या करने के बाद खुद को लगाई फांसी

admin

खुशखबर: अयोध्या के राम मंदिर में इस तिथि से कर सकेंगे रामलला के दर्शन

Clearnews