mehandeepur baalaajee (Mehandipur bala ji) ke mahant (Mahant) kishorapuree mahaaraaj ka nidhan, desh bhar mein shok kee lahar

मेहंदीपुर बालाजी (Mehandipur Bala ji) के महंत (Mahant) किशोरपुरी महाराज का निधन, देश भर में शोक की लहर

जयपुर

राजस्थान के सुप्रसिद्ध मेहंदीपुर बालाजी (Mehandipur Bala ji) मंदिर के महंत (Mahant) किशोरपुरी महाराज (88 वर्ष) का जयपुर में रविवार, 8 अगस्त को दोपहर में निधन हो गया। वे पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे और अधिक तबीयत खराब होने की स्थिति में उन्हें मेहंदीपुर बालाजी से जयपुर लाया गया था। यहां एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। महंत जी के निधन से न केवल समूचे मेहंदीपुर बालाजी बल्कि पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गयीय़

महंत किशोरपुरी महाराज के पारिवारित सूत्रों ने बताया कि महंत जी ने रविवार, 8 अगस्त को दोपहर करीब 1 बजे जयपुर स्थित अपने घर पर ही अंतिम सांस ली। इसके बाद दोपहर करीब साढ़े तीन बजे उनका पार्थिव शरीर बालाजी लाया गय़ा। यहां के निवास पर उनका शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया। महंत जी के निधन पर राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र,  राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सांसद जसकौर मीणा, मंत्री ममता भूपेश आदि दुख व्यक्त किया है और परिवारजन को यह दुख सहन करने की कामना की है।

महंत किशोरपुरी महाराज के निजी सचिव दीपक गुप्ता के अनुसार महाराज जी सीने में संक्रमण की परेशानी से ग्रस्त थे। उनके पार्थिव शरीर को मेहंदीपुर बालाजी लाया गया है और वहीं संत परंपरा के अनुसार महंत जी को समाधि दी जाएगी। महंत किशोरपुरी महाराज के निधन की सूचना मिलते ही बालाजी कस्बे में सन्नाटा पसर गया। दर्शनार्थियों के लिए बालाजी मंदिर के पट बंद कर दिए गए। व्यापारी बाजार की दुकानें बंद कर मंदिर परिसर में पहुंच गए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *