मंत्री की नसीहत परिवहन विभाग पर पड़ी भारी, एसीबी ने फिर की कार्रवाई

क्राइम न्यूज़

रतनपुर बॉर्डर पर विभाग के उप निरीक्षक एवं उड़न दस्ते के गार्ड एवं दलाल रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

जयपुर। परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास द्वारा एसीबी को दी गई नसीहत उनके ही विभाग पर भारी पड़ गई है। एसीबी की कोटा इकाई द्वारा गुरुवार देर रात को कार्रवाई करते हुए परिवहन विभाग की चैक पोस्ट रतनपुर बॉर्डर, डूंगरपुर पर परिवहन विभाग के चैक पोस्ट प्रभारी उप निरीक्षक छगन मेघवाल और उड़न दस्ते के गार्ड जितेन्द्र सिंह, महिपाल सिंह, पूरण सिंह व दलाल नेपाल सिंह को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। मौके पर चैक पोस्ट एवं तैनात कार्मिकों की तलाशी में अवैध रूप से वसूली 2 लाख 69 हजार 840 रुपए की राशि बरामद की गई।

ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि एसीबी को परिवहन विभाग की रतनपुर चैक पोस्ट, जिला डूंगरपुर पर अवैध वसूली की अनेक शिकायतें लगातार प्राप्त हो रही थी। इसी क्रम में एक शिकायत पर कार्रवाई करते हुए एसीबी की कोटा इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चन्द्रशील ठाकुर के नेतृत्व में गठित विशेष टीम द्वारा परिवहन विभाग उप निरीक्षक , गार्डों और दलाल को वाहन चालकों को रोककर एन्ट्री के नाम पर रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। मौके पर चैक पोस्ट एवं तैनात कार्मिकों की तलाशी में अवैध रूप से वसूल की गई राशि बरामद की है। परिवहन विभाग के कुछ कर्मियों के रिश्वत राशि के साथ फरार होने की जानकारी भी मिली है। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम. एन. के निकट पर्यवेक्षण में मौके पर कार्रवाई जारी है।

उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह पूर्व ही परिवहन मंत्री ने एसीबी को नसीहत दी थी कि वह अपनी हदों में रहकर कार्य करे। खाचरियावास ने एसीबी द्वारा मंडार चौकी पर की कई कार्रवाई पर नाराजगी जताते हुए यह बात कही थी और बताया था कि एसीबी ने जो राशि बरामद की उस राशि का चालान बुक से मिलान हो गया था। ऐसे में एसीबी बदले की भावना और डर पैदा करने के लिए कार्रवाई नहीं करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *