अब खेल मैदानों पर उमड़ेगा खिलाड़ियों का मेला : शालिनी

खेल

जयपुर। राजस्थान सरकार द्बारा सरकारी नौकरियों में आउट ऑफ टर्न पॉलिसी के तहत खिलाड़ियों को सीधी नियुक्ति के प्रावधान से गुलाबी नगरी में ही नहीं बल्कि प्रदेश के खेल मैदानों पर खिलाड़ियों का मेला लग जाएगा, यह कहना है जयपुर की एशियन गैम्स की पदक विजेता खिलाड़ी और राजस्थान पुलिस में हाल ही में अपनी उपलब्धियों के कारण डीएसपी के पद पर पदौन्नत की गई शालिनी पाठक का।

उन्होनें विशेष बातचीत में बताया कि खेल मंत्री अशोक चांदना के खेलोगे कूदोगे बनोगे लाजवाब के संदेश ने मूर्त रूप ले लिया है । आज जिन खिलाड़ियों ने देश विदेश में प्रदेश और देश की झोली पदकों से भरी है, सरकार ने भी उनका दामन खुशियों से भर दिया है और एक खिलाड़ी के लिए सबसे बड़ी खुशी तो नौकरी ही है। अब तो यह सही साबित हो गया है कि एक खिलाड़ी दस पन्द्रह साल तक कड़ी मेहनत करके राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतकर सम्मान अर्जित करता है लेकिन रोजगार के अभाव में ऐसा लगता था कि उसने समय बरबाद किया है लेकिन अब ऐसा नहीं है। खेल भी अब कॅरियर बन गया है। क्रिकेट ही नहीं दूसरे खेलों में भी खिलाड़ी अपना भविष्य देख सकते है। एक खिलाड़ी को अब देश के लिए पदक जीतना है तो बिना किसी बाधा और साक्षात्कार के सीधे राजकीय सेवा में उसे नियुक्ति मिलेंगी।

अभी तीन महिने पहले ही बेंगलुरु से कबडडी में एनआईएस में 75 प्रतिशत अंक अर्जित कर देश में तीसरा स्थान हासिल करके लौटी शालिनी की तमन्ना अब खेलने के साथ देश की टॉप टीमों में शुमार राजस्थान महिला पुलिस कबडडी टीम को तैयार करना है।

राजस्थान के खेलों का बदलेगा चेहरा

शालिनी पाठक का मानना है कि इस पॉलिसी से राजस्थान में खेलों का चेहरा बदलेगा। पहले पेरेंट्स अपने बच्चों को खेलने से रोकते थे लेकिन अब उन्हें भी इस पॉलिसी से अपने बच्चों का भविष्य खेलों में नजर आने लगा है। अब लोगों के फोन भी आने लगे है और इस बारे में जानकारी प्राप्त कर रहे है।

चांदना की कथनी और करनी में अंतर नहीं

राजस्थान की दिग्गज कबडडी खिलाड़ियों में शुमार शालिनी ने कहा कि खेल मंत्री अशोक चांदना की कथनी और करनी में अंतर नहीं है। वे जो कहते है , उसे करते भी है। उन्होनें काफी पहले से कह दिया था कि वे राजस्थान के खिलाड़ियों के लिए एक पॉलिसी लेकर आ रहे है ओर उन्होनें इसे कर दिखाया।

मुख्यमंत्री और चांदना का जताया आभार

शालिनी ने राजस्थान में खिलाड़ियों की भर्ती के लिए बनाई गई आउट ऑफ टर्न पॉलिसी की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और खेल मंत्री अशोक चांदना का आभार जताते हुए कहा कि इससे राजस्थान के खिलाड़ियों का पलायन रूकेगा और प्रतिभा का दोहन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *