दिल्लीपर्यटन

शाही रेलगाड़ी ‘पैलेस ऑन व्हील्स’ का सुप्रसिद्ध टूर दिल्ली कैंट रेलवे स्टेशन से रवाना..

विश्व प्रसिद्ध शाही रेलगाड़ी ‘पैलेस ऑन व्हील्स‘ नई दिल्ली के दिल्ली कैंट रेलवे स्टेशन से शनिवार, 22 अप्रेल को अपने सुप्रसिद्ध टूर के लिए रवाना हुई। इस टूर में देश-विदेश के कुल 76 यात्री सफर कर रहे हैं। पैलेस ऑन व्हील्स शाही रेलगाड़ी को राजस्थान का सांस्कृतिक दूत कहा जाता है, जो पर्यटन के क्षेत्र में दुनिया में एक मिसाल है।
इस अवसर पर राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र राठौड़ ने सभी यात्रियों का अभिवादन करते हुए बताया कि पैलेस ऑन व्हील्स 1982 से लगातार चल रही है। शाही रेल में राजस्थान की हेरिटेज और सांस्कृतिक परम्परा को देखकर देश-विदेश के पर्यटक रोमांचित हो जाते हैं। उन्होंने पैलेस ऑन व्हील्स की पूरी यात्रा की विस्तृत जानकारी देते हुए पर्यटक यात्रियों को ट्रेन में आधुनिक साज-सज्जा और सभी पर्यटक सुख-सुविधाओं के बारे में बताया।
उन्होंने बताया कि राजस्थान सरकार ने पर्यटन और संस्कृति को बढ़ावा देने और प्रदेश के गांवों, ढाणियों से पर्यटन को जोड़ने के लिए ग्रामीण ट्यूरिज्म पॉलिसी बनाई है। इसके अंर्तगत अगर किसी व्यक्ति के पास प्रदेश के गांव में 2000 वर्ग मीटर भूमि या 8 बीघा लगभग 2 हैक्टेयर जमीन है तो वो बिना सरकार की अनुमति के सीधा होटल बना सकता है। इसके अतिरिक्त होटल को उद्योग का दर्जा दिया गया है। उन्होंने बताया कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में नई फिल्म पॉलिसी भी बनाई गई है।
राठौड़ ने बताया कि राजस्थान के गौरवशाली इतिहास के दर्शन कराती इस शाही रेल का सफर देशी और विदेशी पर्यटकों को आनंदित करता है। यहां पर पर्यटक अपने आप को राजसी माहौल में पाता है। इसमें आवभगत, स्वादिष्ट व्यंजन और पर्यटन निगम के अधिकारियों तथा कर्मचारियों की सेवा भावना व अतिथि सत्कार को देखकर पर्यटक रोमांचित होते हैं। उन्होंने बताया कि यह शाही रेलगाड़ी पर्यटन की दृष्टि से राजस्थान की पुरानी हवेलियां, गढ़, किले और रेगिस्तान के साथ लोक कलाएं, हस्तशिल्प आदि की दुनिया भर में खास पहचान करवाती है।
इस अवसर पर राजस्थान के दिल्ली में आवासीय आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने फिक्की और राजस्थान पर्यटन विकास निगम द्वारा आयोजित विशेष फेम टूर में यात्रा कर रहे पर्यटक यात्रियों का स्वागत करते हुए उन्हें शाही रेलगाड़ी की जानकारी दी।
इससे पूर्व यात्रा में जाने वाले सभी पर्यटक यात्रियों का राजस्थान पर्यटन विकास निगम के कर्मचारियों ने राजस्थानी परंपरानुसार तिलक लगाकर, माला पहनाकर और साफा बांधकर उनका स्वागत किया।
इस फेम टूर में पोलेंड, नॉर्वे, कनाडा, टर्की, मैक्सिको, अमेरिका, बेल्जियम, नीदरलैंड, थाईलैंड, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटिष, स्पेन, श्रीलंका, डेनमार्क, स्वीडन, दक्षिण अफ्रीका, इंडोनेषिया, जर्मनी, वियतनाम, पोलेंड, सिंगापुर, रोमानिया, डच्च, जापान सहित विभिन्न देशों के पर्यटक यात्री शामिल हैं।
इस मौके पर आवासीय आयुक्त धीरज श्रीवास्तव के अतिरिक्त ओबीसी वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष पवन गोदारा, भारतीय रेलवे के उच्चाधिकारियों सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं आमजन उपस्थित थे।

Related posts

पाक के किसी भी एयरपोर्ट को भारत अपने एक बम से खत्म कर सकता है… जानिए कौनसा है वो बाहुबली बम

Clearnews

ये क्या बोल गए राहुल गांधी? पीएम मोदी को ‘पनौती’ बोल गये..! उन पर यह हमला भारी न पड़ जाए..

Clearnews

एशियाई भारत्तोलन चैंपियनशिप में बिंदयारानी देवी ने जीता रजत पदक, मीराबाई चानू ने की ऑपरेशन के बाद अच्छी वापसी

Clearnews