चुनावजयपुर

राजस्थान विधानसभा चुनाव-2023: पिछले दो दिन में 26 करोड़ से अधिक और अब तक 63 करोड़ से अधिक की अवैध सामग्री जब्त

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के मद्देनजर निर्वाचन विभाग के निर्देश पर प्रदेश में विभिन्न एनफोर्समेंट एजेंसियों ने आज रिकॉर्ड 12 करोड़ रूपए से ज्यादा का ड्रग्स, शराब, सोना, फ्रीबीज व नगदी पकड़ा है। इसी तरह कल भी एजेंसियों ने 16 करोड़ रुपए की कीमत से ज्यादा के ड्रग्स, शऱाब, सोना, फ्रीबीज व नगदी पकड़ा था। आचार संहिता लागू होने से लेकर अब तक एजेंसियां 63 करोड़ रुपए से ज्यादा कीमत की अवैध सामग्री को जब्त कर चुकी है।
राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में अलग-अलग एजेंसियों की ओर से जारी रिपोर्ट में ये जानकारी दी गयी है। इसमें आचार संहिता लगने से अब तक 7 करोड़ 48 लाख रुपए कैश, ड्रग्स लगभग 28.61 करोड़ रुपए, शराब 4 करोड़ 75 लाख रुपए और सोना- चांदी जैसी कीमती धातुओं की 5.76 करोड़ रुपए की जब्ती की गयी है जबकि फ्रीबीज 16.72 करोड़ रुपए के जब्ती की गयी है। इन एजेंसियों में राज्य पुलिस, राज्य एक्साइज, नारकोटिक्स विभाग एवं आयकर विभाग प्रमुख है
गुप्ता ने बताया कि प्रदेश भर में विभागों द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है और किसी भी संदेहास्पद मामले पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है।
बूंदी में सी-विजिल पर प्राप्त अवैध शराब वितरण की शिकायत पर रिकॉर्ड 11 मिनट में कार्रवाई
मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि सी-विजिल एप के माध्यम से प्राप्त शिकायतों पर रिकॉर्ड समय में कार्रवाई हो रही है। उन्होंने बताया कि बूंदी में आज सुबह 9 बजकर 23 मिनट पर सी-विजिल एप के जरिए अवैध शराब के वितरण की शिकायत प्राप्त हुई जिस पर उडन दस्ते द्वारा रिकॉर्ड 11 मिनट में कार्रवाई करते हुए अवैध शराब जब्त कर ली गयी। गौरतलब है कि आचार संहिता लागू होने से अब तक यानि पिछले 6 दिन में प्रदेशभर में 1 लाख 35 हजार 819 जागरूक लोगों द्वारा सी विजिल एप डाउनलोड किया गया है।

Related posts

भरतपुर (Bharatpur) में आईएफसी (IFC)का मैनेजर और क्वालिटी कंट्रोलर 1 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

admin

राजस्थान में राजसिको विकसित करेगी विस्तृत स्तर का नवीन एयर कार्गो कॉम्पलेक्स

admin

इंदिरा गांधी नहर परियोजना में पानी की उपलब्धता का पूरा आंकलन कर होगा बंटवारा, मंत्री समूह ने जनप्रतिनिधियों के साथ वार्ता में सुने सुझाव

admin