दिग्गज ऑलराउंडर शेन वॉटसन ने निराश होकर क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लिया

खेल

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी शेन वॉटसन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है। समझा जा रहा है कि वे इस वर्ष इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए इस वर्ष यानी 2020 के दौरान कुछ खास नहीं कर सके और इसी बात से निराश होकर उन्होंने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया। वर्ष 2018 में जब चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल चैंपियनशिप हासिल की थी तो उसमें उनकी तूफानी बल्लेबाजी की सभी ने सराहना की थी।

वर्ष 2020 में औसत प्रदर्शन, बल्ला खामोश रहा

उल्लेखनीय है कि आईपीएल 2020 में वॉटसन का बल्ला खामोश ही रहा। इस खिलाड़ी ने 11 मैचों में 29.90 की औसत से केवल 299 रन ही बनाए। उनके बल्ले से 2 अर्धशतक निकले और उनका स्ट्राइक रेट 121.05 रहा। समीक्षकों की राय में शेन वॉटसन का औसत प्रदर्शन चेन्नई सुपरकिंग्स को भारी पड़ा और इस वजह से वो पहली बार आईपीएल के प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई। शेन वॉटसन  जैसा दिग्गज खिलाड़ी मैदान से क्रिकेट को अलविदा नहीं कह पाया। चेन्नई सुपरकिंग्स ने अपने आखिरी लीग मैच के ग्यारह खिलाड़ियों में वॉटसन को जगह नहीं दी इस तरह उन्होंने अपना आखिरी आईपीएल मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स के विरुद्ध 29 अक्टूबर को खेला था। चेन्नई सुपरकिंग्स ने वॉटसन को वर्ष 2018 में खरीदा था, उस वक्त उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *