ताज़ा समाचार

भीषण गर्मी झेल रहे राजस्थान के कुछ जिलों को मिलेगी राहत

राजस्थान भीषण गर्मी की चपेट में है और बीते तीन-चार दिनों से तो राज्य में जबर्दस्त लू चल रही है। सभी जिलों का तापमान 42 से 47 डिग्री के बीच चल रहा है। लेकिन, राहत की बात यह है कि आगामी दिनों में एक नया पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है जिसके प्रभाव के कारण हीटवेव से जल्द ही राहत मिलने वाली है।

गर्मी के कारण आमेर में हाथी सवारी का समय घटाया

जयपुर में तो भीषण गर्मी के कारण आमेर में हाथी सवारी का समय किया कम कर दिया है। अब हाथी की सवारी सुबह 7  से 10 बजे तक  ही रहेगी। विशेषज्ञों के मुताबिक हाथी सवारी का समय कम कर देने  का कारण है भीषण गर्मी में सवारी के दौरान रास्ते के पत्थरों का गर्म होना। इन गर्म पत्थरों के कारण हाथी को चलने में दिक्कत आती है और हाथी को गुस्सा भी आ सकता है। इस वजह से सवारियों की जान भी खतरे में पड़ने की आशंका रहती है।

तीव्र गर्मी से राहत

राजस्थान में मौसम विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय के निदेशक आरएस शर्मा का कहना है कि नये पश्चिमी विक्षोभ के कारण राज्य के अलवर, दौसा, करौली, जयपुर (उत्तर-पूर्व), भरतपुर (उत्तर-पश्चिम) जिलों और आसपास के क्षेत्रों मे कहीं-कहीं पर मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। इस दौरान आकाशीय बिजली कड़कने के साथ अचानक तेज हवाएं चलने की संभावना है।

बूंदा-बांदी शुरू

शर्मा का कहना है कि राज्य में तेज हवाओं की अपेक्षित गति 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है। खबर लिखते-लिखते जयपुर (उत्तर-दक्षिण), टोंक (दक्षिण), अजमेर (किशनगढ़), नागौर (पूर्व), सीकर, झुंझुनू, बूंदी और आसपास के क्षेत्रों मे कहीं-कहीं पर मेघगर्जन के साथ तेज हवाएं चलने के समाचार हैं और बूंदा-बांदी की शुरुआत हो चुकी है। फिलहाल हवाएं 20-30 किलोमीटर की रफ्तार चल रही है।

Related posts

देह व्यापार में लिप्त 3 युवतियों एवं एक युवक सहित चार गिरफ्तार

admin

टॉप की क्लीयर न्यूजः 13 रनों से भारत ने जीता तीसरा 1 दिवसीय मैच, ऑस्ट्रेलिया जीता 2-1 से सीरीज

admin

टोक्यो ओलंपिकः मीराबाई चानू ने भारत्तोलन (Weight lifting) में जीता रजत पदक (Silver Medal), पदल तालिका में भारत दूसरे स्थान पर

admin