भाजपा पर निशाना साधते हुए सुरजेवाला ने कहा-सीता मैया का हुआ चीरहरण

जयपुर

पूनिया बोले अनुच्छेद 356 का दुरुपयोग कौरवों की भांति कांग्रेस ने ही किया

जयपुर। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला का गुरुवार को उदयपुर में दिया बयान विवद का विषय बन गया है। विवाद इसलिए हो रहा है कि सुरजेवाला द्वारा प्रेसवार्ता में मोदी सरकार को कोसने के दौरान उन्होंने कहा कि ‘जैसे सीता मैया का चीरहरण हुआ था, वैसे ही भाजपा प्रजातंत्र का चीरहरण करना चाहती है।’

सुरजेवाला के बयान पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने ट्वीट कर कांग्रेस को निशाने पर ले लिया और कहा कि चीरहरण सीता मैया का नहीं हुआ था, प्रजातंत्र का चीरहरण भी आपातकाल लगाकर, सैंकड़ों बार अनुच्छेद 356 का दुरुपयोग कौरवों की भांति कांग्रेस ने ही किया है।

वहीं उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने ट्वीट किया कि भगवान राम को कपोल कल्पित व रामसेतु के अस्तित्व को नकारने वाली कांग्रेस ने अब “सीतामाता का चीरहरण” जैसी अभद्र टिप्पणी करके एक बार फिर निकृष्ट मानसिकता को प्रदर्शित किया है। लोकतंत्र का बार-बार चीरहरण करने वाली कांग्रेस देशवासियों की आस्था के साथ खिलवाड़ करना बंद करें।

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार को उदयपुर में आयोजित प्रेस वार्ता में भाजपा और मोदी सरकार पर जमकर जुबानी हमला बोला। इस दौरान वह कह गए कि जैसे सीता मैया का चीरहरण हुआ था, वैसे ही भाजपा प्रजातंत्र का चीरहरण करना चाहती हैं।

सुरजेवाला का यह बयान सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। लोगों ने सुरजेवाला का मजाक बनाते हुए कमेंट किए कि चीरहरण सीता मैया का नहीं, द्रोपदी का हुआ था। सीता मैया का तो रावण ने हरण किया था।

सुरजेवाला ने प्रेसवार्ता में कहा कि राज्यसभा चुनाव में प्रजातांत्रिक बहुमत की एक बार फिर जीत होगी। प्रजातंत्र का चीरहरण करने वाले लोग धनबल, सत्ताबल, ईडी, सीबीआई और इनकम टैक्स के भरोसे यहां आए हैं। इससे पहले भी भाजपा के लोगों को करारी शिकस्त मिली थी। राज्यसभा चुनाव में भी सच और संविधान जीतेगा। इसके बाद ही उन्होंने विवादित टिप्पणी कर दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.